आज कल सबके पास अपनी गाड़ी है। बिना गाड़ी के तो लोगों को अपनी ज़िंदगी बेकार लगती है लेकिन गाड़ी के मालिक इससे जुड़ी कुछ बातों को भी जान लें वरना उनको भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

Noida में गाड़ी की अवधि पूरी होने पर अब परिवहन विभाग दूसरे जिले में Vehicle को ले जाने के लिए अनापत्ति प्रमाण (NOC) पत्र जारी नहीं करेगा। बुधवार से Transport Department की ओर से इस पर रोक लगा दी गई है। विभाग की ओर से एक वक्त के बाद ऑनलाइन NOC जारी करने की प्रक्रिया को ब्लॉक कर दिया गया है। अभी तक Vehicle की आयु पूरी होने के बाद भी लोगों के आवेदन पर NOC जारी कर दी जाती थी।  बता दें कि Delhi-NCR में एनजीटी के आदेशानुसार 15 साल पुराने पेट्रोल और 10 वर्ष पुराने डीजल Vehicles को चलाने पर बैन है। प्रदूषण पर काबू के लिए एनजीटी ने यह आदेश जारी किया है। वाहन की अवधि पूरी होने पर कई लोग दूसरे जिले में अपने Vehicles को ले जाने हेतु अनापत्ति प्रमाण के लिए आवेदन करते थे।

ऑनलाइन आवेदन के बाद करीब दो दिन से तीन दिन में NOC मिलने के बाद लोग अपने Vehicle को दूसरे जिले में ले जाते थे। एआरटीओ प्रशासन एके पांडे ने कहा कि जिन लोगों को अपने Vehicle दूसरे जिले में ले जाने हैं वे गाड़ियों की अवधि पूरी होने से पहले आवेदन कर दें। इसके बाद आवेदन स्वीकार नहीं होगा। ऐसे Vehicles को लोग कबाड़ में बेच दें। यदि Vehicle सड़क पर दौड़ते पाए जाएंगे तो जब्त कर लिए जाएंगे। Vehicle को कबाड़ में कटवाने का खर्च भी गाड़ी मालिक से वसूला जाएगा।

Transport Department से मिली जानकारी के मुताबिक जिले में करीब 40 हजार पुराने Vehicle हैं। इससे पहले अगस्त में 48 हजार 449 वाहनों के Registration Transport Department ने निरस्त किए थे। इन वाहनों में यूपी16 और यूपी 16ए से लेकर एल तक सिरीज के Vehicle शामिल थे। वहीं 2019 में 514, 2020 में 5558 और इस साल जून तक 252 Vehicles का पंजीकरण रद्द किया गया था।

यह भी पढ़ें: अब Graduation  में 50% से कम अंक होने पर भी शिक्षक भर्ती के लिए कर सकते हैं आवेदन

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है