देश दुनिया में Corona virus ने लोगों को डरा रखा है वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अभी भी इसे हल्के में ले रहे हैं। कहना गलत नहीं होगा कि Corona के Omicron Variant को अब तक हल्का माना जा रहा है। शायद इसलिए भी क्योंकि बीते साल Delta Variant की तुलना में यह कम जानलेवा है लेकिन अगर किसी ने Corona Vaccine नहीं लिया है तो उन पर Omicron भी कहर बरपा सकता है।

Omicron कितना ख़तरनाक है, इसकी तस्दीक मुंबई के आंकड़े करते हैं। यहां Corona से संक्रमित जिन लोगों को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखे जाने की ज़रुरत पड़ रही है, उनमें से अधिकांश ने टीका नहीं लिया है। बृहन्मुंबई नगरपालिका के मुखिया ने इसकी जानकारी दी। छह जनवरी तक के आंकड़ों को देखते हुए बीएमसी कमिश्नर इकबाल चहल ने कहा, ‘ऑक्सीजन बेड पर भर्ती 1900 Corona मरीजों में से 96 प्रतिशत ऐसे हैं, जिन्होंने Vaccine नहीं लिया जबकि सिर्फ 4 फीसदी ही टीकाकृत हैं।’

संक्रामक रोग विशेषज्ञ और Covid Task Force के सदस्य डॉक्टर कहते हैं कि बहुत से लोगों ने केसों में उछाल आने के बाद Vaccine लेना शुरू किया है। उन्होंने कहा कि इस मसले पर गहन अध्ययन नहीं किया गया है लेकिन ऑक्सीजन सपोर्ट पर बिना टीका लिए मरीजों की अधिक संख्या इस तरफ साफ इशारा करती है कि कैसे Vaccine न लेने वालों को Corona का सबसे ज्यादा खतरा है। डॉक्टर श्रीवास्तव के मुताबिक, Omicron शरीर के अपर रेस्पिरेटरी एरिया को प्रभावित कर रहा है और इससे संक्रमित मरीजों को ऑक्सीजन की जरूरत नहीं है।

डॉक्टर ने कहा, ‘अस्पताल में भर्ती होने के मामले में टीका ले चुके और न लेने वाले दोनों ही तरह के मरीज हैं लेकिन ऑक्सीजन बेड पर अधिकांश वही मरीज हैं जिन्होंने Corona Vaccine नहीं लिया है। ऐसे मरीजों की आयु 40 से 50 साल के बीच या उससे ज्यादा है।’ उन्होंने कहा कि यह दर्शाता है कि हर नागरिक के लिए Corona Vaccine लेना कितना जरूरी है।

यह भी पढ़ें – देश में Corona का आतंक बरक़रार, बीते 24 घंटे में 90…

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है