Lucknow अलाया अपार्टमेंट के गिरने पर Yogi सरकार की बड़ी कार्रवाई, जांच कमेटी जल्द देगी रिपोर्ट

0
164

बेहद आसानी से सब बोल देते हैं कि इमारत ज़मींदोज़ हो गई। ज़रा उस इमारत में रहने वालों का हाल पूछिए तो पता लगेगा कि सिर्फ इमारत ही नहीं वहां रहने वालों की ख़ुशी, अरमान, ज़िंदगी और अपने लोग समेत न जाने क्या क्या ज़मींदोज़ हुआ है। Lucknow में हजरतगंज के वजीरगंज हसन रोड पर बने अलाया अपार्टमेंट के गिरने पर Yogi सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है।

CM Yogi के निर्देश पर तीन सदस्यीय जांच समिति गठित कर दी गई है। इस कमेटी में आयुक्त लखनऊ रोशन जैकब, संयुक्त पुलिस आयुक्त लखनऊ पीयूष मोर्डिया एवं चीफ इंजीनियर पीडब्ल्यूडी लखनऊ होंगे। ये समिति इस घटना के लिए ज़िम्मेदार लोगों को चिन्हित कर एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट देगी। वहीं मंडलायुक्त डॉ रोशन जैकब ने Lucknow Development Authority के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि हजरतगंज के वजीरगंज हसन रोड पर बने अलाया अपार्टमेंट के गिरने पर उसके भवन मालिक मोहम्मद तारिक, नवाज़िश शाहिद तथा बिल्डर्स यजदान पर तत्काल मुकदमा पंजीकृत कराया जाए। मंडलायुक्त ने लखनऊ शहर में यजदान बिल्डर्स के द्वारा बनाई गई अन्य बिल्डिंगों का चिन्हांकन करके जांच करने के भी निर्देश दिए हैं।

इस हादसे में वहां रहने वाले 35-40 लोग फंस गए। चीख-पुकार के बीच एसडीआरएफ, पीएसी और पुलिस प्रशासन ने स्थानीय लोगों की मदद से 13 लोगों को बाहर निकाला। पांच लोगों को सिविल अस्पताल में भेजा गया है। एक बच्चे की हालत गंभीर है। एक की मौत हो गई। देर रात तक मलबा हटाने का काम जारी रहा। वहीं CM Yogi ने इस घटना का संज्ञान लेते हुये अफसरों को राहत कार्य में कोई ढिलाई न करने को कहा। मुख्यमंत्री ने घायलों को तत्काल अस्पताल पहुंचाकर जिला प्रशासन के अधिकारियों को उनके समुचित उपचार के निर्देश दिए। केजीएमयू से डॉक्टरों की एक टीम मौके पर पहुंच गई। साथ ही एक 20 से अधिक एम्बुलेंस भी मौके पर मौजूद रहीं।

राहत कार्य अभी लम्बा चलेगा। मलबा हटाने में काफी सावधानी बरती जा रही है ताकि उसमें फंसे किसी व्यक्ति की जान न जाए। रात साढ़े नौ बजे के करीब केजीएमयू ट्रॉमा सेंटर प्रभारी डॉक्टर संदीप तिवारी की अगुवाई में पहुंची टीम राहत कर्मियों के साथ दबे हुए लोगों को प्राथमिक चिकित्सा देकर एम्बुलेंस तक पहुंचाने में मदद कर रही थी। एसडीआरएफ के सेनानायक डॉ. सतीश कुमार ने बताया कि इमारत के मलबे से 13 लोगों को निकाला जा चुका है।

यह भी पढ़ें – Lucknow Building Collapse: देखते ही देखते 5 मंज़िला इमारत हुई ज़मीदोज़

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है