Holi से पहले शपथ ले लेंगे Yogi Adityanath

0
212

चुनाव हो गए, परिणाम भी आ गया अब इंतज़ार है तो राज तिलक का। मुख्यमंत्री Yogi Adityanath ने नई सरकार के गठन से पहले परंपराओं को निभाते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। शुक्रवार(11 मार्च) की दोपहर मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद Yogi Adityanath राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिलने राजभवन पहुंचे और अपना इस्तीफा सौंपा।

नई सरकार के गठन से पहले तक Yogi कार्यवाहक मुख्यमंत्री के तौर पर काम करेंगे। माना जा रहा है कि होली से पहले Yogi Adityanath शपथ ले लेंगे। Yogi Adityanath के नेतृत्व में लड़े गए चुनाव में मिली जीत से उनके नाम पर पहले ही मुहर लग चुकी है। अब विधायक दल की बैठक में नेता चुनने की औपचारिकता पूरी की जाएगी। माना जा रहा है कि दिल्ली में अन्य मंत्रियों के नाम पर मुहर लगेगी। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो 15 मार्च को नई सरकार का गठन हो सकता है।

इस विधानसभा चुनाव की जीत से न सिर्फ Yogi का कद बढ़ा बल्कि वे एक ऐसे नायक के रूप में उभरे, जिसने तमाम विषम परिस्थितियों पर काबू पाते हुए जीत का तोहफा भाजपा की झोली में डाल दिया। यूपी के चुनावी नतीजों ने न सिर्फ योगी की बुलडोजर बाबा की छवि और उनके सुशासन मॉडल पर मुहर लगा दी बल्कि विरोधियों के मंसूबे भी ध्वस्त कर दिए। Yogi की बेदाग छवि और पूरे पांच साल बिना रुके, बिना थके उनकी मेहनत के आधार पर प्रदेश की जनता ने उन्हें ही यूपी के लिए सबसे उपयोगी माना। भाजपा छोड़ सपा में शामिल होने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्मसिंह दिग्गज भी धराशायी हो गए। हालांकि प्रदेश के कई मंत्री भी चुनाव हार गए।

यूपी में बीजेपी गठबंधन ने प्रचंड जीत हासिल की है। बीजेपी ने अकेले 255 सीटों पर जीत दर्ज की है। उसके गठबंधन सहयोगी अपना दल (सोनेलाल) को 12 और निषाद पार्टी को छह सीटें मिली हैं। 37 साल बाद प्रदेश में कोई सरकार रिपीट हुई और योगी दोबारा मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें – 12 March – जानें किन राशि के जातकों के आज आकस्मिक मुनाफ़े के ज़रिए आर्थिक हालात होंगे ‘सुदृढ़’

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है