कर्नाटक के मुख्यमंत्री B. S. Yediyurappa अपने पद से इस्तीफा देने वाले हैं। माना जा रहा है कि इस्तीफे के पीछे की वजह बढ़ती उम्र और खराब सेहत हो सकती है। हालांकि Yediyurappa ने इस बात से इनकार कर दिया है। Yediyurappa ने अपने इस्तीफे की अफवाहों को खारिज करते हुए कहा है कि यह बिल्कुल सच नहीं है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बढ़ती उम्र और खराब सेहत की वजह से अब Yediyurappa का मुख्यमंत्री बने रहना संभव नहीं है। शुक्रवार को पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान उन्होंने बढ़ती उम्र और खराब सेहत का हवाला देते हुए इस्तीफे की पेशकश की थी। आज उन्होंने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। यहां भी Yediyurappa ने अपनी बात दोहराई। इसके बाद पार्टी आलाकमान ने उन्हें आश्वासन दिया है कि जल्द ही कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री पर फैसला लिया जाएगा।

जल्द ही विधायक दल की बैठक होगी। तब तक Yediyurappa अपने पद पर बने रहेंगे। सूत्रों से पता चला है कि Yediyurappa ने आलाकमान के सामने एक शर्त भी रखी है। उन्होंने इस्तीफे के बदले अपने बेटे के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल में पद की मांग की है।

सबके ज़हन में ये सवाल है कि Yediyurappa के बाद कर्नाटक का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा। एक-दो दिन में मुख्यमंत्री का नाम तय हो जाएगा। मुख्यमंत्री की रेस में सबसे प्रमुख नाम प्रह्लाद जोशी का है। प्रह्लाद जोशी मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। वह उत्तर कर्नाटक से सांसद हैं। प्रह्लाद जोशी के बाद दूसरा बड़ा नाम बीएल संतोष है। बीएल संतोष लंबे समय तक संगठन मंत्री रहे हैं और फिलहाल बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री हैं और बहुत अच्छे प्रशासक मंत्री माने जाते हैं। इनके अलावा डिप्टी सीएम लक्ष्मण सवदी, बीजेपी नेता मुर्गेश निराणी और बसवराज एतनाल भी मुख्यमंत्री के दावेदार हैं।

यह भी पढ़ें: अफ़ग़ानिस्तान में भारतीय पत्रकार Danish Siddiqui की कवरेज के दौरान हत्या

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है