World Organ Donation Day 2022: आपके Organ दूसरों को दे सकते हैं बेहतर ज़िंदगी

0
581

दुनिया में हर इंसान के लिए उसके Organ बेहद ज़रूरी होते हैं इतना ही नहीं आपके Organ किसी दूसरे को भी नई ज़िंदगी दे सकते हैं। अंगदान से संबंधित मिथकों को हल करने और अंगदान के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए हर साल 13 अगस्त को World Organ Donation Day मनाया जाता है। ये दिन लोगों की मौत के बाद किसी दूसरे की जिंदगी बचाने की खातिर अपने स्वस्थ अंगों को दान करने के लिए प्रोत्साहित करने का होता है।

किडनी, दिल, आंख, लंग्स जैसे अंगों को दान करने से लंबे समय की बीमारियों से जूझ रहे लोगों की जिंदगी बचाने में मदद मिल सकती है। स्वस्थ अंगों के अभाव में कई लोगों की जिंदगी चली जाती है जिसे बचाया जा सकता है। World Organ Donation Day का मकसद लोगों को स्वेच्छा से अपने अंगों को दान करने का एहसास कराना होता है जो बहुत लोगों की जिंदगी बदल सकते हैं। ब्रेन डेड घोषित शख्स का भी अंग दान किया जा सकता है।

भारत का अपना Organ Donation Day है जिसे हर साल 27 नवंबर को मनाया जाता है। इस मौके पर सरकार नागरिकों को स्वेच्छा से अपने अंगों को दान करने और लोगों की जिंदगी बचाने का आह्वान करती है। बता दें कि आधुनिक चिकित्सा ने एक शख्स से दूसरे शख्स में अंगों को प्रत्यारोपित करना संभव बना दिया है। पहली बार सफल Organ Transplant अमेरिका में 1954 में किया गया था। डॉक्टर जोसेफ मरे को फिजियोलॉजी और मेडिसिन में जुड़वां भाइयों रोनाल्ड और रिचर्ड हेरिक के बीच सफलतापूर्वक किडनी प्रत्यारोपण करने पर 1990 में नोबल पुरस्कार मिला।

अपने अंगों को डोनेट करना किसी को नई जिंदगी देना होता है। उम्र, धर्म और जात के बावजूद स्वेच्छा से कोई भी अंग डोनर बन सकता है लेकिन जरूरी है कि अंगदाता का पुरानी बीमारियों जैसे कैंसर, एचआईवी या दिल और लंग की बीमारी से पीड़ित न हो। स्वस्थ डोनर का बहुत ज्यादा महत्व है और 18 साल की उम्र होने पर आप डोनर बनने के लिए रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

यह भी पढ़ें – World Hepatitis Day 2022 पर जानें किस तरह रखें लीवर का ख़्याल

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है