इस अस्पताल में महिलाओं को मिलता रहेगा Free Treatment

0
357

महंगाई के इस दौर में महिलाओं को थोड़ी राहत मिल गई है। लोहिया संस्थान में भले ही शासन ने हॉस्पिटल ब्लॉक में शुल्क के साथ इलाज मुहैया कराने का आदेश दिया है। लोहिया के मातृ एवं शिशु रेफरल हॉस्पिटल में गर्भवती महिलाओं का Free Treatment जारी रहेगा। इसमें किसी भी तरह की तब्दीली नहीं की गई है। प्रसव के बाद प्रसूताओं को जननी सुरक्षा योजना का भी लाभ मिलेगा।

गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं को नेशनल हेल्थ मिशन (एनएचएम) के बजट से मुफ्त इलाज मिलेगा। एनएचएम की जननी सुरक्षा योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को ओपीडी व भर्ती कर Free Treatment मुहैया कराया जाएगा। साथ ही शहरी क्षेत्र की महिलाओं को एक हजार व ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को 14 सौ रुपये जननी सुरक्षा योजना के तहत प्रदान किए जाएंगे। इस लागू योजना में किसी भी तरह का रद्दोबदल नहीं किया गया है। बता दें कि करीब ढ़ाई साल पहले लोहिया अस्पताल का विलय संस्थान में हो गया है। वहीं मरीजों के इलाज पर अब आफत आ गई है। हॉस्पिटल ब्लॉक में एक रुपये के पर्चे पर Free Treatment बंद करने का आदेश आ गया है। संस्थान के शुल्क पर इलाज की व्यवस्था लागू की है। अब मरीजों को ओपीडी से लेकर भर्ती और जांच तक का शुल्क चुकाना होगा।

शहीद पथ स्थित मातृ शिशु एवं रेफरल अस्पताल में महिला रोग विभाग की ओपीडी का संचालन हो रहा है। रोजाना 100 से अधिक मरीज आ रहे है। गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशु के करीब 100 बेड हैं। गर्भवती महिलाओं की मुफ्त खून की जांच, अल्ट्रासाउंड आदि फ्री मिलता रहेगा। इससे गर्भवती महिलाओं को काफी फायदा होगा। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को सभी तीनों टीके मुफ्त लगेंगे।

यह भी पढ़ें – सवालों पर लगा विराम, Congress में शामिल नहीं हो रहे Prashant Kishor

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है