कम वक़्त में बनारस से हावड़ा पहुंचाएगी Vande Bharat Express

0
164

कहीं जाना हो और वहां जाने के लिए कोई वाहन मिल जाए तो सफर का मज़ा दोगुना हो जाता है। अब बनारस से हावड़ा जानें के लिए आपको परेशानी नहीं होगी। वाराणसी को एक और Semi High Speed Vande Bharat Express Train की सौगात मिलेगी।

देशभर में 75 रेलवे स्टेशनों पर आवंटित होने वाले Vande Bharat Express में एक पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल का बनारस डिपो भी है। सूत्रों के अनुसार अभी इसका प्रस्तावित रूट हावड़ा है। इस रूट पर Varanasiसे कोई तेज गति की ट्रेन नहीं है। संभावना है कि अगले माह या अक्तूबर तक ट्रेन का आवंटन हो जाए। ट्रेन के प्राइमरी मेंटेनेंस के लिए बनारस स्टेशन के कोचिंग डिपो में वाशिंग पिट में तकनीकी कार्य कराए जा रहे हैं। पूर्व के दो वाशिंग पिट कैम-टेक तकनीक पर बने हैं, अब तीसरे को भी इस तकनीक पर बनाया जा रहा है।

बनारस डिपो में कैम-टेक तकनीक से बन रहे वाशिंग पिट में एलएचबी रैक और Vande Bharat के रैक की प्राइमरी मेंटीनेंस हो सकेगी। डीडीयू के बाद कोलकाता तक 130 की स्पीड वर्तमान में डीडीयू जंक्शन से कोलकाता के बीच रेलवे ट्रैक की औसत गति क्षमता 130 किमी प्रति घंटे है। ऐसे में वंदेभारत के लिए यह रूट सही होगा। केवल Varanasi से डीडीयू के बीच औसतन 1 घंटे 10 मिनट के समय को कम करना होगा। इसके लिए ट्रैक की गति बढ़ाई जा रही है। स्लीपर सुविधा वाली होगी Vande Bharat नई Vande Bharat में बैठ कर यात्रा के बजाय शयनयान श्रेणी के कोच भी होंगे। इससे लंबी दूरी की यात्रा सुविधाजनक होगी।

कैंट रेलवे स्टेशन पर वाशिंग पिट में नई तकनीक के बदलाव से संभावना है कि यहां एक और Vande Bharat का आवंटन हो सकता है, जो मुंबई, गुजरात या मध्य प्रदेश रूट पर चल सकती है। बता दें कि कैम-टेक तकनीक के वाशिंग पिट में ट्रेन को लाने के बाद बीच में एक समान जगह होती है। बीच के अलावा किनारे-किनारे भी जगह दी गई है, जिससे कि ट्रेन का बेहतर मेंटीनेंस हो सके।

यह भी पढ़ें – ख़तरे में हैं आपके पशु, तेज़ी से फ़ैल रहा है ‘Lumpy’ रोग

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है