बेहद अहम है BJP और Yogi के लिए UP चुनाव, जानें वजह 

0
295

चुनाव तो कोई भी हो वो सभी के लिए अहम होता है। यही वजह है कि उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों को लेकर सत्ताधारी BJP पूरी तैयारी में जुटी है। एक तरफ यह चुनाव 2024 में BJP की केंद्र वापसी के लिहाज से अहम माना जा रहा है तो वहीं CM Yogi Adityanath के राजनीतिक भविष्य के लिए भी यह बेहद अहम है।

यह चुनाव BJP में वैकल्पिक नेतृत्व तैयार करने के लिए भी बेहद अहम है। एक तरफ UP चुनाव देश में राजनीति की आने वाली दिशा तय करेगा तो वहीं BJP के भीतर भी उठ रहे कई सवालों के जवाब UP के नतीजों से मिल सकते हैं। दरअसल 2022 में एक तरह से BJP के भीतर 2002 की स्थिति दोहराने वाली है। बात यह है कि 2002 में गुजरात विधानसभा के चुनावों ने Modi के कद को बढ़ा दिया था और उनकी राष्ट्रीय राजनीति में एक तरह से एंट्री की शुरुआत हो चुकी थी। बता दें कि अब ठीक 20 साल बाद फिर से ऐसी ही स्थिति पैदा हुई है, जब Yogi जीते तो वह UP के बाहर भी एक राष्ट्रीय नेता के तौर पर उभरते दिख सकते हैं। इसके साथ ही BJP में Modi के बाद कौन के सवाल का जवाब भी आंशिक तौर पर मिल सकता है।

BJP कार्यकर्ताओं के बीच UP में अकसर ‘मोदी-योगी-जय श्री राम’ का नारा लगता दिखता है। साफ है कि Modi के बाद यूपी में BJP के कार्यकर्ता Yogi को ही देखते हैं, लेकिन इस चुनाव के नतीजे बता देंगे कि यह नारा कितना सही और गलत साबित होता है। बता दें कि साल 2002 के मोदी और Yogi की सबसे बड़ी समानता यह है कि तब Modi के चेहरे पर पहली बार चुनाव लड़ा गया था क्योंकि उससे पहले उन्हें मिड टर्म में CM Yogi बनाया गया था। 2017 में भले ही CM Yogi बने थे और 5 साल का कार्यकाल पूरा किया है, लेकिन तब राज्य में CM Yogi के तौर पर किसी का नाम तय नहीं था। ऐसे में यह पहला मौका है, जब उनके चेहरे पर चुनाव लड़ा जा रहा है। यदि इस बार जीत होती है तो इसका बड़ा श्रेय उन्हें भी मिलेगा और यह उनके कद को UP और देश की राजनीति में बढ़ाने वाला होगा।

यह भी पढ़ें – जानें, क्यों ख़ास है Rani Kamlapati Railway Station

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है