वुहान में  होगी जांच

WHO ने 10 लोगों की टीम गठित कर चीन भेजी है। यह टीम वुहान में जांच करेगी कि आखिर कोरोनावायरस की उतपत्ती कहा से हुई है  इसी बीच अब कोरोना वायरस  से संक्रमित  मरीजों को लेकर चीन की हेराफेरी सामने आने लगी है। चीन के NHC का कहना है कि 12 जनवरी को कई महीनों बाद चीन में संक्रमण के 100 से ज्यादा नए मामले सामने आए है।

Amazon India को जारी किया गया कारण बताओ नोटिस, जानें पूरा मामला

ब्राजील के वैज्ञानिकों ने चीन की वैक्सीन को लेकर भी बड़ा दावा किया है। वहा के वैज्ञानिकों का कहना है कि सिनोवैक बायोटेक द्वारा बनाई गई कोरोना वैक्सीन कोरोना के खिलाफ 50% ही असरदार है। अगर वैज्ञानिकों का ये दावा सही निकलता है तो ये वैक्सीन दुनिया में विकसित दूसरे टीकों में सबसे कम असरहार होगा।जब इसके तीसरे चरण का रिजल्ट आया था तो पिच्चतर% प्रभावी बताया गया था।

दुनिया में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 9 करोड़ से अधिक हो गया है वही  6 करोड़ 62 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं। और अब तक 19 लाख 85 हजार से अधिक लोगों की मैत हो चुकी है। वही 13 दिन में 30 लाख नए मरीज पाए गए है

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं