America की सत्तारूढ़ डेमोक्रेटिक पार्टी के भीतर H-1बी समेत तमाम वर्क वीजा पर लगी रोक को खत्म करने की मांग तेज होने लगी है। पार्टी के कुछ सांसदों ने बाइडन प्रशासन से आग्रह किया है कि वह ट्रंप के कार्यकाल के दौरान वीजा पर लगे प्रतिबंधों को खत्म करे।

उनका कहना है कि वीजा पर प्रतिबंध के चलते America नियोक्ताओं में अनिश्चितता का माहौल है। डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी राष्ट्रपति रहते H-1बी समेत विविध प्रकार के वर्क वीजा जारी करने पर प्रतिबंध लगा दिया था। हालांकि इस आदेश की अवधि 31 मार्च तक खत्म हो जाएगी। इस प्रतिबंध को खत्म करने के लिए पांच डेमोक्रेट्स सीनेटरों ने राष्ट्रपति जो बाइडन को पत्र लिखा है। इसमें कहा गया है, ‘यह प्रतिबंध के जारी रहने से अमेरिकी नियोक्ताओं के साथ ही उनके विदेशी पेशेवरों और परिवारों में अनिश्चितता की स्थिति है।’

Kiara Advani के काम आई भईजान की सलाह  

उल्लेखनीय है कि H-1बी वीजा भारतीय आइटी पेशेवरों में लोकप्रिय है। इस वीजा के आधार पर अमेरिकी कंपनियां उच्च कुशल विदेशी कामगारों को रोजगार देती हैं। हर साल विभिन्न श्रेणियों में 85 हजार वीजा जारी किए जाते हैं। यह वीजा तीन साल के लिए जारी होता है। चुनाव प्रचार के दौरान बाइडन ने वादा किया था कि वे एच-1बी वीजा पर लगे प्रतिबंधों को खत्म करेंगे।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है