ये जानलेवा बीमारी पूरी दुनिया में एड्स से भी तेज रफ्तार से अपनी जगह बना रही है।

एड्स एक ऐसी जानलेवा बीमारी हैं, जिसके दुनियाभर के चिकित्सक व वैज्ञानिक वर्षों से इलाज की खोज में लगे हैं परंतु अभी तक उन्हें सफलता नहीं मिल सकी है। अब चिकित्सकों के सामने इससे भी बड़ी और खतरनाक बीमारी आ गई है। एड्स की तरह इस दूसरी खतरनाक बीमारी का भी प्रमुख कारण असुरक्षित यौन संबंध है। माना जा रहा है कि ये जानलेवा बीमारी पूरी दुनिया में एड्स से भी तेज रफ्तार से अपनी जगह बना रही है।

यूपी के बलिया में दूषित पानी पीने से 85 लोग बीमार, एक बच्ची की मौत

Image result for syphilis

बताया जाता है कि इस खतरनाक बीमारी का नाम है सिफलिस। बताया जा रहा है कि बीते दस सालों में इस बीमारी का प्रकोप काफी ज्यादा बढ़ा है, यूरोप के रोग निवारण व नियंत्रण केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक इस बीमारी को नियंत्रित करने के लिए सुरक्षित यौन संबंध बेहद जरूरी है। सबसे हैरानी की बात ये है कि ये बीमारी उन समलैंगिक पुरुषों में सबसे ज्यादा देखी गई है, जिनके बीच एड्स का डर नहीं रहता है। एड्स का डर ना होने की वजह से यौन संबंधों के दौरान ये समलैंगिक सुरक्षित संबंधों की अनदेखी करते हैं। बता दें कि 2010 के बाद से असुरक्षित यौन संबंधों की वजह से इस रोग के मामलों में 70 फीसद तक की वृद्धि दर्ज की गई है। सिफलिस बीमारी के दुनिया में बढ़ने की कई वजहें हैं। साथी संग असुरक्षित यौन संबंध, कई लोगों के साथ यौन संबंध बनाना और HIV का डर इसमे शामिल है। बता दें कि दुनिया भर में प्रतिदिन तकरीबन एक लाख से ज्यादा लोग असुरक्षित यौन संबंधों की वजह से संक्रमण संबंधी बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं।

अगर शरीर में दिखाई गई है 3 लक्षण तो समझ जाइए हार्टअटैक कभी भी आ सकता है….

Image result for syphilis

सिफलिस बीमारी महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए एक जैसी ही जानलेवा है। इससे नवजात बच्चों की मौत तक हो जाती है। साथ ही इस बीमारी की चपेट में आने से एचआईवी का खतरा भी बढ़ जाता है। विशेषज्ञों के अनुसार तेजी से पांव पसार रही इस समस्या से निजात पाने का सबसे कारगर उपाय यौन संबंधों के दौरान सावधानी बरते।