गंभीर खतरे को देखते हुए भारत सरकार ने आपात बैठक बुलाई

कोरोनावायरस से दुनिया अभी तक निपट नहीं सकी है और ब्रिटेन की राजधानी लंदन समेत पूर्वी इंग्‍लैंड में कोरोनावायरस का नया प्रकार (स्‍ट्रेन) ‘बेकाबू’ हो गया है। लंदन की इस बेहद खराब हालत को देखते हुए यूरोप समेत दुनिया के कई देशों ने ब्रिटेन से उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है।

अब ब्रिटेन की राजधानी लंदन समेत पूर्वी इंग्‍लैंड में कोरोनावायरस का नया प्रकार (स्‍ट्रेन) ‘बेकाबू’ हो गया है। लंदन की इस बेहद खराब हालत को देखते हुए यूरोप समेत दुनिया के कई देशों ने ब्रिटेन से उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है। कोरोना का यह नया स्‍ट्रेन न केवल ब्रिटेन बल्कि इटली, नीदरलैंड, डेनमार्क, ऑ‍स्‍ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका में भी फैल गया है। इसी गंभीर खतरे को देखते हुए भारत सरकार ने भी सोमवार को आपात बैठक बुलाई है।

इससे पहले ब्रिटेन की सरकार द्वारा वायरस के नए प्रकार के ‘नियत्रंण से बाहर’ होने की चेतावनी जारी करने के बाद यूरोपीय यूनियन के कई देशों ने ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है। वहीं, ब्रिटेन ने भी रविवार से सख्त लॉकडाउन लागू कर दिया है। माना जा रहा है कि कोरोनावायरस का नया प्रकार ब्रिटेन में संक्रमण को तेजी से फैलाने के लिए जिम्मेदार है। उधर, यूरोपीय संघ भी सोमवार को बैठक कर रहा है। बता दें कि ब्रिटेन में तेजी से फैल रहा कोरोनावायरस का यह नया स्‍ट्रेन पूर्व के वायरस के मुकाबले 70 प्रतिशत अधिक तेजी से फैलता है।

भारत सरकार को डर है कि अगर यह वायरस देश में आया तो बहुत तेजी से कोरोनावायरस के मामले बढ़ सकते हैं। भारत सरकार के एक सूत्र ने बताया, ‘ब्रिटेन में कोरोनावायरस के नए प्रकार के चलते इस पर चर्चा के लिए स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक (डीजीएचएस) की अध्यक्षता में सोमवार को संयुक्त निगरानी समूह की बैठक होगी।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है