Moon पर जाने का सपना शायद हर वो इंसान देखता होगा जिसे चांद पसंद होगा। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने आर्टेमिस नामक एक अंतरराष्ट्रीय स्पेसफ्लाइट कार्यक्रम के तहत जल्द ही रंगीन व्यक्ति (अश्वेत) को पहली बार चांद पर उतारने का फैसला किया है।

इस नए फैसले के साथ बड़ा कदम उठाते हुए, बिडेन-हैरिस प्रशासन पहले महिला और फिर पुरुष को Moon की सतह पर उतारेगा। शुक्रवार(9 अप्रैल) को प्रशासन ने कांग्रेस के लिए 2022 के विवेकाधीन खर्च के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन की प्राथमिकताओं को प्रस्तुत किया। इस दौरान नासा के प्रशासक स्टीव जुर्स्की ने कहा, ‘यह लक्ष्य सभी के लिए इक्विटी के विचार को आगे बढ़ाने के लिए राष्ट्रपति बिडेन की प्रतिबद्धता को रेखांकित करता है।’

NASA के कार्यकारी ऐडमिनिस्ट्रेटर स्टीव जर्कजीक ने बताया कि प्रशासन ने 24.7 अरब डॉलर की फंडिंग का प्रस्ताव कांग्रेस के सामने रखा है जो NASA के लिए प्रतिबद्ध दिखाता है। बयान में बताया गया है कि चांद पर पहली महिला और पहले अश्वेत शख्स को भेजने के मिशन के लिए इससे मदद मिलेगी। दिसंबर में आर्टेमिस कार्यक्रम के लिए अंतरिक्ष यात्रियों के पहले कैडर की घोषणा की गई थी, 2024 में आर्टेमिस III के लिए पहले दो चालक दल के सदस्यों की घोषणा की जानी बाकी है।

यह भी पढ़ें: Jhansi में किसानों की कई एकड़ की फसल हुई बर्बाद

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है