प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार आयोग में कश्मीर मुद्दे को उठाते हुए कहा था कि हमें इसपर 58 देशों का समर्थन हासिल है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार आयोग में कश्मीर मुद्दे को उठाते हुए कहा था कि हमें इसपर 58 देशों का समर्थन हासिल है। हालांकि, वो 58 देश हैं कौनसे? जब इसका उत्तर पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से पूछा गया तो उनकी बोलती बंद हो गई। सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान टीवी चैनल एक्सप्रेस न्यूज पर एक टॉक शो के दौरान, कुरैशी से यह सवाल इसलिए पूछा गया था क्योंकि उन्होंने इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र में दिए कश्मीर पर बयान का बार-बार समर्थन किया था, जिसमें कहा गया था कि कश्मीर के मुद्दे पर 58 देशों ने इस्लामाबाद का समर्थन किया।

Image result for pakistan foreign minister

कुरैशी टॉक शो के होस्ट जावेद चौधरी से ऐसा सवाल पूछने पर भड़क गए, वे कहने लगे, ‘आप किसके एजेंडे पर काम कर रहे हैं?, ‘क्या आप मुझे बताने जा रहे हैं या तय करेंगे कि किन देशों ने UN में पाकिस्तान का समर्थन किया है या नहीं किया है? आप जो चाहें लिख सकते हैं।

अपने ट्विटर हैंडल पर इमरान खान की बात का समर्थन करने के लिए जब उनसे दोबारा पूछा गया तो वे बोले, ‘नहीं! नहीं! मुझे वह ट्वीट दिखाओ जो मैंने लिखा है, वो नहीं जो प्रधानमंत्री खान ने लिखा है। आपने मेरा ट्वीट कहा है कि मुझे दिखाओ। मुझे अपना ट्वीट चाहिए।

Image result for pakistan foreign minister

हालांकि, मंत्री के इतना कहने पर उनको उनके द्वारा किया गया ट्वीट दिखाए भी गया, जिसके बाद वो पलट गए और अपने असली रूप में आए गए। कहने लगे ट्वीट में कुछ भी गलत नहीं है। मैंने जो कहा है, मैं उसपर ही खड़ा हूं। इसमें इतना आश्चर्य की बात क्या है… आप किसके एजेंडे पर चल रहे हैं?

बता दें कि भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर से Article 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखला गया है। वह इस मुद्दे को विश्व स्तर पर उठाना चाह रहा है और देखा जाए तो उसने कश्मीर पर भारत की छवि खराब की भी, लेकिन उसके पास उतने सबूत नहीं थे, जिससे वे अपने बेबुनियाद आरोपों को साबित कर सके।