3 देशों के दौरे के बाद अपने वतन लौटे पीएम मोदी।

24 अगस्त से फ्रांस के बियारेट्ज शहर में जी-7 शिखर सम्मेलन आयोजित किया गया था। जिसमे पीएम मोदी ने भी हिस्सा लिया। जी- 7 समिट के दौरान सबकी निगाहें पीएम मोदी और ट्रंप की मुलाकात पर थी। जी-7 की बैठक के बाद पाकिस्तान बौखला गया और अपनी बौखलाहट के चलते परमाणु बम की धमकी देने लगा। पाकिस्तान की इस धमकी को दरनिकार करते हुए पीएम मोदी उनके ही एयरस्पेस से भारत लौट आए।

दरअसल, पीएम मोदी संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और फ्रांस की यात्रा पर पिछले हफ्ते 22 अगस्त को रवाना हुए थे। इस दौरान पीएम मोदी ने फ्रांस के बियारिट्ज शहर में जी-7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा भी लिया। प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ अलग से मुलाकात भी की। इन दोनों नेताओं के बीच कश्मीर मुद्दे पर बातचीत हुई। बैठक के दौरान भारत ने अपना रुख स्पष्ट कर दिया कि इसमें वे किसी तीसरे देश का हस्तक्षेप नहीं चाहते। साथ ही पीएम मोदी ने सम्मेलन के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत कई विश्व नेताओं से मुलाकात कर जलवायु परिवर्तन और डिजिटल क्रांति जैसे मुद्दों पर चर्चा की।

बता दें, इससे पहले पीएम मोदी बहरीन की यात्रा पर गए हुए थे जहां उन्हें “किंग हमाद ऑर्डर ऑफ द रेनसां” से सम्मानित किया गया। इसके बाद पीएम मोदी बहरीन की यात्रा खत्म कर फ्रांस के लिए रवाना हुए। जहां उन्होनें जी-7 समिट मे हिस्सा लिया।