डोनाल्‍ड ट्रंप को कमला हैरिस की उपराष्‍ट्रपति पद की उम्‍मीदवारी से क्यों है ऐतराज़

अमेरिका में डेमोक्रेटिक पार्टी से राष्ट्रपति उम्मीदवार जो बिडेन ने ऐतिहासिक कदम उठाते हुए भारतीय मूल की कमला हैरिस को उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार चुना है। इस फैसले से उनके धुर विरोधी डोनाल्‍ड ट्रंप भड़क गए हैं। राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा कि वह कमला हैरिस की उम्‍मीदवारी से ‘थोड़ा आश्‍चर्य’ में हैं जिन्‍होंने सुप्रीम कोर्ट के जज के साथ बेहद बुरा बर्ताव किया था।

कमला हैरिस उपराष्ट्रपति पद की टिकट पाने वालीं पहली एशियाई-अमेरिकी हैं। वह डेमोक्रेट गेराल्डाइन फेरारो और रिपब्लिकन सारा पॉलिन के बाद एक प्रमुख पार्टी की पहली अफ्रीकी अमेरिकी और उस पद के लिए उम्मीदवारी करने वालीं तीसरी महिला भी हैं।

11 अगस्त को बिडेन ने ट्वीट किया- मेरे लिए यह घोषणा करना बहुत सम्मान की बात है कि मैने कमला हैरिस को चुना है। वह एक निडर फाइटर, देश की बेहतरीन जनसेवक हैं। जानकारी के लिए बता दें कि अगर चुनावों में 78 साल के बिडेन की जीत होती है तो वे सबसे ज्यादा उम्र के राष्ट्रपति होंगे, जबकि हैरिस की उम्र अभी 55 साल है। हैरिस अभी सीनेट की सदस्य हैं। वे कैलिफोर्निया की अटार्नी जनरल रह चुकी हैं। अमेरिका के इतिहास में अभी तक केवल दो बार कोई महिला उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार बनी है। 1984 में डेमोक्रेट गेराल्डिन फेरारो और 2008 में रिपब्लिकन सारा पालिन को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया गया था। लेकिन किसी को भी जीत हासिल नहीं हुई।

जानें, कमला हैरिस के बारें में

कमला हैरिस भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक हैं। उनकी मां श्यामा गोपालन हैरिस का जन्म चेन्नई में हुआ था और वह एक कैंसर शोधकर्ता थीं, जिनका 2009 में निधन हो गया और उनके पिता डोनाल्ड हैरिस जमैका के रहने वाले हैं, जो फिलहाल स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाते हैं। जब हैरिस और उनकी छोटी बहन माया हैरिस बहुत छोटी थीं, तब उनके माता-पिता अलग हो गए थे।

कमला हैरिस ऑकलैंड में पली-बढ़ी हैं। उन्होंने हावर्ड यूनिवर्सिटी से स्नातक की डिग्री ली है। इसके बाद कमला ने कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी से कानून की पढ़ाई की है। हैरिस सैन फ्रांसिस्को में जिला अटॉर्नी के रूप में भी काम कर चुकी हैं। वह 2003 में सैन फ्रांसिस्को की जिला वकील बनी थीं।

हैरिस ने साल 2017 में कैलिफोर्निया से संयुक्त राज्य सीनेटर के रूप में शपथ ली थीं। वो ऐसा करने वाली दूसरी अश्वेत महिला थीं। उन्होंने होमलैंड सिक्योरिटी एंड गवर्नमेंट अफेयर्स कमेटी, इंटेलिजेंस पर सेलेक्ट कमेटी, ज्यूडिशियरी कमेटी और बजट कमेटी में भी काम किया। हालांकि, पिछले साल तक कमला हैरिस राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार की रेस में थीं, मगर समर्थन नहीं मिल पाने की वजह से इस रेस से बाहर हो गई थीं।

राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की प्रतिक्रिया

ट्रंप ने एक संवाददाता सम्‍मेलन में कहा, ‘कमला हैरिस ने सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस ब्रेट कवानउघ के साथ असाधारण रूप से बुरा बर्ताव किया था। उन्‍होंने इस हद तक बुरा बर्ताव किया था जो बहुत भयानक था। जिस तरह से कमला हैरिस ने जस्टिस ब्रेट कवानउघ के साथ बर्ताव किया था, मैं उसे जल्‍द भूल नहीं सकता हूं।’ इससे पहले वर्ष 2018 में जस्टिस ब्रेट पर यौन उत्‍पीड़न का आरोप लगा था। बता दें कि कमला हैरिस ने जस्टिस ब्रेट पर कई तीखे सवाल दागे थे।
उन्होंने ये भी कहा, ‘मैं समझता हूं कि वह (कमला हैरिस) बेहद निकृष्‍ट हैं। यही नहीं कमला हैरिस ने प्राइमरी के चुनाव के दौरान भी बहुत खराब प्रदर्शन किया था। वह टैक्‍स को बढ़ाने वाली और सेना के बजट को कम करने वाली हैं।’ ट्रंप ने कहा कि मैं समझता हूं कि उपराष्‍ट्रपति माइक पेंस कमला हैरिस से काफी बेहतर हैं। उधर, बाइडन ने भारतीय मूल की कमला हैरिस को योद्धा और अमेरिका के सबसे बेहतरीन नौकरशाहों में से एक करार दिया है।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है