पाकिस्तान के वज़ीर-ए-आज़म इमरान खान का अब तक का सबसे बड़ा कबूलनामा।

इमरान खान ने अमेरिकी थिंक टैंक के साथ एक मीटिंग में ये कुबूल किया कि 9/11 से पहले अल कायदा की ट्रेनिंग पाकिस्तान आर्मी और ISI ने की थी।

इमरान ने ये बात साफ़ साफ़ कही कि खतरनाक आतंकी संगठन जिसका नेतृत्व ओसामा बिन लादेन कर रहा था। उस संगठन की ट्रेनिंग 9/11 यानि अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हमले से पहले ISI ने उन्हें ट्रेनेड किया था। 9/11 का वो भयानक मंज़र अमेरिका क्या पूरी दुनिया उसे भूल नहीं सकती। 

डॉनल्ड ट्रंप ने पाकिस्तानी पत्रकार की उड़ाई खिली कहा- कहाँ से लाते हो ऐसे कलाकार पत्रकार!

इमरान खान का सबसे बड़ा कबूलनामा 9/11 के पीछे पाकिस्तान आर्मी और ISI का था हाथ 

इमरान खान ने CFR (अमेरिकी थिंक टैंक कौंसिल ऑन फॉरन रिलेशंस) में कहा कि अमेरिका में 11 सितम्बर 2001 को, वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए हमले से पहले ओसामा बिन लादेन के नेतृत्व में पल रहे आतंकवादी संगठन अल कायदा को ट्रेनिंग देने वाले पाकिस्तान आर्मी और ISI थे, लेकिन उन्होंने आगे बढ़ते हुए ये भी कहा की उस हमले के बाद पाकिस्तान की सरकार ने अपनी नीतियां बदल दी थी, पर पाकिस्तान आर्मी ने इसका समर्थन नहीं किया और वो इन नीतियों को बदलना नहीं चाहती थी।

इमरान खान का सबसे बड़ा कबूलनामा 9/11 के पीछे पाकिस्तान आर्मी और ISI का था हाथ 

इमरान खान से इस घटना से जुड़ा एक और सवाल पूछा गया। उनसे पूछा गया कि ओसामा बिन लादेन के यूएस नेवी सील्स के हाथों एनकाउंटर में पाकिस्तान ने कोई जाँच क्यों नहीं की? इसके जवाब में इमरान ने कहा कि हमने जांच की थी, लेकिन मैं कहूंगा कि पाकिस्तान आर्मी, आईएसआई ने 9/11 से पहले अल कायदा को ट्रेंड किया था। इसलिए, हमेशा लिंक जुड़ते रहे। आर्मी में कई ओहदेदार 9/11 के बाद बदली नीति से सहमत नहीं हुए।

पाक में हिंदू लड़की की मौत का मामला, पाकिस्तान ने जांच से पीछे खींचे हाथ