डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार 10 सितम्बर को एनएसए (NSA) ऑफिसर जॉन बोल्टन को पद से हटा दिया। इसकी जानकारी खुद ट्रम्प ने अपने ट्विटर हैंडलर से दी है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प हमेशा से ही सुर्ख़ियों में बने रहते हैं। आज एक बार फिर वह सुर्खियां बटोर रहे हैं और इसकी वजह है कि उन्होंने तीसरी बार अपने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) को बर्खास्त किया है। मंगलवार 10 सितम्बर को डोनाल्ड ट्रम्प ने जॉन बोल्टन को पद से हटा दिया। इसकी जानकारी खुद ट्रम्प ने अपने ट्विटर हैंडलर से दी है। उन्होंने आगे यह भी कहा है कि वह अगले हफ्ते नए NSA की घोषणा करेंगे।

चंद्रयान 2 के चन्द्रमा पर उतरने से पहले ही अमेरिका ने कही थी बड़ी बात की भारत…

डोनाल्ड ट्रम्प ने तीसरी बार अपने एनएसए ऑफिसर को किया बर्खास्त, बताई ये वजह

डोनाल्ड ट्रम्प ने बोल्टन को बर्खास्त करने की वजह भी ट्वीट में बतायी है, ट्रम्प ने कहा कि पिछली रात मैंने बोल्टन से कहा कि अब वाइट हाउस में उनकी सेवाओं की जरूरत नहीं है। मैं उनकी कई सलाह से असहमत हूं। लिहाजा मैंने जॉन से इस्तीफा मांगा और उन्होंने मुझे सुबह इसे सौंप दिया। जॉन की सेवाओं के लिए शुक्रिया।’ उन्होंने ये भी कहा कि बोल्टन को राष्ट्रीय सुरक्षा या सेना का बिलकुल भी अनुभव नहीं है, इससे पहले भी ट्रम्प ने अपने दो राष्ट्रीय सलाहकारों को निकालते हुए यही बात कही थी।

आखिर क्यों है पाकिस्तान खौफ़ में? क्यों कर रहा कश्मीर मुद्दे पर इसराइल की चर्चा?

कौन हैं जॉन बोल्टन?

डोनाल्ड ट्रम्प ने तीसरी बार अपने एनएसए ऑफिसर को किया बर्खास्त, बताई ये वजह

जॉन का जन्म 20 नवंबर 1948 में मैरीलैंड के बाल्टीमोर में हुआ था।  बोल्टन को 9 अप्रैल 2018 को यूएस का 27वां राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बनाया गया था। वह जॉर्ज डब्ल्यू बुश के कार्यकाल में अगस्त 2005 से दिसंबर 2006 तक संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका के राजदूत रह चुके हैं। बोल्टन अमेरिकी अटॉर्नी, राजनीतिक टिप्पणीकार, रिपब्लिकन सलाहकार और पूर्व राजनयिक हैं।

डोनाल्ड ट्रम्प ने तीसरी बार अपने एनएसए ऑफिसर को किया बर्खास्त, बताई ये वजह

जॉन बोल्टन की उम्र 70 साल है। ईरान, यमन, क्यूबा, नार्थ कोरिया जैसे देशों में सरकार में बदलाव  की वकालत करते है। बोल्टन ने काई सरकारी विभागों की बड़ी बड़ी पोस्ट संभाली है।  वह स्टेट डिपार्टमेंट, हस्तिस डिपार्टमेंट और यूएस एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट जैसे एहम विभागों में उच्च पोस्ट संभल चुके हैं।