Myanmar के वायुसैनिक अड्डों पर अज्ञात लोगों की ओर से किए गए हमलों से यह साफ है कि Myanmar का गृह युद्ध अब सीमवर्ती सुदूर इलाकों से शहरी क्षेत्रों में फैल गया है। इन हमलों की जिम्मेदारी अब तक किसी ने नहीं ली है। लेकिन सुरक्षा विश्लेषण के हिसाब से स्थानीय विद्रोहियों और शहरी लोकतंत्र समर्थकों के गठजोड़ के जरिये इन हमलों को अंजाम दिया जा रहा है।

आपको बता दें, रिपोर्ट के अनुसार यह गठजोड़ ही विस्फोटक मुहैया करा रहा है और Myanmar के मुख्य इलाकों के स्थानीय हालात की जानकारियां भी इन्हीं लोगों से मिल रही हैं। विश्लेषकों का मूल्यांकन सटीक है तो यह बात सही है कि स्थानीय विद्रोहियों के छोटे-मोटे हमले अब छोटे कस्बों से बड़े शहरों की ओर बहुत तीव्र हमलों में बदलते जा रहे हैं।

पिछले तीन महीनों में Myanmar की सेना के वरिष्ठ जनरल इन हमलों में 750 लोगों से अधिक लोगों को मार चुके हैं इस बीच, स्थानीय विद्रोही काचिन इंडिपेंडेंस आर्मी (केआइए) Myanmar का सबसे ताकतवर संगठन है। इस संगठन ने Myanmar की सेना का एक हेलीकॉप्टर मार गिराने का दावा किया है। Myanmar की सेना ने विगत एक फरवरी को निर्वाचित सरकार को हटाकर देश की सत्ता पर कब्जा कर लिया था।

यह भी पढ़ें: कोविड अस्पताल से मरीज़ गायब, परिजनों ने किया हंगामा

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है