America विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकेन ने गुरुवार को वरिष्ठ चीनी अधिकारियों को बताया कि देश की झिंजियांग, हांगकांग और ताइवान जैसे स्थानों पर गतिविधियों के साथ-साथ America पर उसके साइबर हमले उचित नहीं। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि बीजिंग को वैश्विक व्‍यवस्‍था का सम्मान करना होगा या फिर उसे ‘अधिक हिंसक दुनिया’ का सामना करना पड़ेगा। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन के साथ हो रही उनके चीनी समकक्षों वांग यी और यांग जिएची के बीच मुलाकात के दौरान कही। दोनों देशों के बीच तनाव को दूर करने के लिए अलास्‍का में यह पहली उच्‍चस्‍तरीय बैठक चल रही है।

Delhi में राशन की डोर स्टेप डिलीवरी योजना पर क्यों लगी रोक, जानें

ब्लिंकेन ने कहा कि अमेरिका ‘वैश्विक स्थिरता बनाए रखने वाले नियम-आधारित आदेश’ की रक्षा करने के लिए है, नहीं तो इसके अलावा ‘अधिक हिंसक दुनिया’ होगी और कहा कि शिनजियांग, हांगकांग और ताइवान जैसी जगहों पर चीनी गतिविधियां, साथ ही साथ उसके साइबर हमले भी और America के दोस्‍तों के खिलाफ आर्थिक सीनाजोरी ने कानून आधारित व्‍यवस्‍था के लिए खतरा पैदा कर दिया है। यह कोई मामले को ‘आंतरिक मामले’ भी नहीं है, जो दुनिया इसमें हस्तक्षेप न करे।बता दें कि पूर्वी और दक्षिण China सीज़ में China की बढ़ती आक्रामकता और उसके मानवाधिकारों के लिए शिनजियांग में उइगर मुस्लिमों के खिलाफ दुर्व्यवहार, जिसे अमेरिकी प्रशासन ने नरसंहार के रूप में नामित किया है, वैश्विक चिंता का विषय है। हांगकांग में दमनकारी राष्ट्रीय सुरक्षा को लागू करने और शहर की चुनावी व्यवस्था को खत्म करने के लिए इसे विश्व स्तर पर फटकार लगाई गई है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है