सुप्रीम कोर्ट ने दिए कृषि कानून पर स्टे के संकेत

किसान आंदोलन पर आज सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई हुई। आज की सुनवाई के बाद जहां एक ओर किसानों को राहत मिलती दिख रही है तो वहीं दूसरी ओर केंद्र सरकार बैकफुट पर नजर आ रही है। दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने आज सरकार से सीधे सवाल पूछा है कि क्या सरकार तीनों कृषि कानूनों पर रोक लगा रही है अगर सरकार रोक नहीं लगा रही तो सुप्रीम कोर्ट इन कानूनों पर रोक लगा दे। इसके अलावा पूरे मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार के रवैये को लेकर भी सवाल उठाए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने सवाल पूछा कि आखिर ये चल क्या रहा है, आपके कानून के खिलाफ लोग बगावत कर रहे हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम प्रदर्शन के खिलाफ नहीं हैं साथ ही केंद्र सरकार से सवाल पूछा है कि अगर सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस ले लेती है तो क्या किसान अपने घरों को वापस लौट जाएंगे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि किसान  कानून को वापस लेने की मांग कर रहे हैं और सरकार मुद्दों पर बात करना चाहती है

देश में कोरोना की लगातार थम रही रफ्तार

सुप्रीम कोर्ट ने किसानों की परेशानियों को कमेटी के सामने रखना जरूरी बताया। कमेटी के लिए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से नाम बताने को कहा है। ये कमेटी किसानों की समस्याओं को सुनेगी। साथ ही कमिटी की बातचीत जारी रहने तक कानून के अमल पर रोक रहेगी। मामले को लेकर कल (मंगलवार) को दोबारा सुनवाई होनी है। अब तक हुई सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने कृषि कानून पर रोक लगाने के संकेत दिए हैं

दरअसल दिल्ली के बॉर्डर पर किसान 47 दिनों से धरने पर बैठे हैं। इस बीच सरकार और किसानों के बीच कई दौर की बातचीत भी हो चुकी है लेकिन समस्याओं का समाधान नहीं निकल सका है। किसान तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हैं वहीं दूसरी ओर सरकार प्रावधानों में संशोधन के लिए तो तैयार है लेकिन सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं लेना चाहती। ऐसे में अब नजरें कल सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुनवाई पर टिकी हैं।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं