भारत के लिए मुसीबत बन रहा Ukraine संकट, निवेशकों के डूबे 9.1 लाख करोड़ रूपए

0
198

Share Market में कब क्या हो जाए ये कोई नहीं बता सकता। पलभर में इंसान मालामाल हो जाता है तो कभी कभी कंगाल हो जाता है। रूस द्वारा Ukraine के दो विद्रोही-प्रभुत्व वाले क्षेत्रों को मान्यता दिए जाने के बाद बेंचमार्क सूचकांकों में 2 प्रतिशत से अधिक की गिरावट के साथ भारतीय इक्विटी के लिए मंगलावर (22 फरवरी) की शुरुआत काफी निराशाजनक रही।

रूस- Ukraine संकट ने पिछले कई दिनों से दुनिया भर के बाजारों को संकट में डाल दिया है। बढ़े हुए तनाव और युद्ध की आशंकाओं से उत्पन्न सूनामी ने केवल पांच दिनों की अवधि में बीएसई-सूचीबद्ध कंपनियों के बाजार पूंजीकरण को 9.1 लाख करोड़ रुपये तक कम कर दिया है। निवेशकों के पैसे डूब गए हैं। 16 फरवरी आखिरी दिन था जब भारतीय बाजार बढ़त के साथ बंद हुए थे। उसके बाद लगातार गिरावट देखी जा रही है।

22 फरवरी को बीएसई सेंसेक्स 1,245 अंकों की गिरावट के साथ 56,439 पर खुला, जबकि निफ्टी 359 अंकों की गिरावट के साथ 16,848 पर खुला। अन्य सभी एशियाई सूचकांक दिन के दौरान 1 प्रतिशत से अधिक नीचे थे।

ब्रोकरेज फर्म आईएफए ग्लोबल ने मंगलवार को अपने सुबह के नोट में कहा, “सुरक्षित पनाहगाह रातोंरात रुक गए हैं। अमेरिकी कोषागार पर यील्ड लंबी अवधि में लगभग 7-8bps गिर गई है। यह एक मौका है कि राजनीतिक तनाव के जोखिम को देखते हुए अपनी सख्त योजनाओं को फिर से जांच सकता है।”

भारत के लिए सबसे बड़ा मैक्रो हेडविंड कच्चे तेल की कीमतों में तेज़ी है। इसका मुद्रास्फीतिकारी परिणाम Reserve Bank of India को अपने नरम मौद्रिक रुख को छोड़ने के लिए मजबूर करेगा। कच्चा तेल करीब 97 डॉलर प्रति बैरल हो गया है। सोना 1,900 डॉलर के पार पहुंच गया है।

मुख्य निवेश रणनीतिकार वीके विजयकुमार ने कहा, “कच्चे तेल और सोने की उच्च कीमतों में आर्थिक परिणाम दिखाई दे रहे हैं। तनाव बढ़ेगा तो स्थिति और बिगड़ेगी। अगर नरमी आई तो इसमें कमी आएगी।” विजयकुमार ने कहा, ‘इस गिरावट में खरीदारी के मौके आ सकते हैं लेकिन निवेशकों को खरीदारी के लिए जल्दबाजी करने की जरूरत नहीं है क्योंकि एफआईआई के बिकवाली जारी रहने की संभावना है।”

यह भी पढ़ें – इस आरोप में Sonu Sood पर दर्ज हुई FIR, पुलिस ने गाड़ी भी की ज़ब्त

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है