Omicron से निपटने के लिए Delhi सरकार इस चीज़ को बनाएगी बड़ा हथियार

0
169

Corona virus के नए Variant Omicron से तबाही न मचे इसके लिए Delhi सरकार लगातार कोशिश कर रही है। Delhi में तेज़ी से बढ़ते Omicron के मामलों को देखते हुए Delhi सरकार Omicron Variants से संक्रमित Covid -19 के बिना लक्षण व हल्के लक्षण वाले मरीज़ों को Home Isolation में रखने पर विचार कर रही है। अधिकारियों ने गुरुवार(30 दिसंबर) को इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इसके साथ ही सरकार सिर्फ सीमित संख्या में नमूनों को जीनोम सिंक्वेंसिंग के लिए भेजेगी।

देश में Omicron Variant का पहला मामला दो दिसंबर को बेंगलुरु में सामने आया था, जहां भारतीय मूल के 66 वर्षीय दक्षिण अफ्रीकी और 46 वर्षीय एक डॉक्टर के इस Variant से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। हालांकि दोनों ने विदेश यात्रा नहीं की थी।

Delhi सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि देशभर में नए मामलों की संख्या 1,000 का आंकड़ा पार कर गई है और उनमें से 54 प्रतिशत Omicron Variant से संक्रमित हैं। यह संख्या अगले कुछ दिनों में और बढ़ने वाली है और हमने देखा है कि Omicron Variant से संक्रमित अधिकांश रोगियों को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता नहीं होती है – वे या तो बिना लक्षण वाले हैं या उनमें हल्के लक्षण हैं। उन्हें अस्पतालों में चिकित्सा देखभाल की आवश्यकता नहीं है।

अधिकारी ने कहा कि अस्पताल में देखभाल की जरूरत बीमारों को है। यदि वे बीमार हैं, तो हम उन्हें अस्पताल ले जाएंगे, यदि नहीं, तो क्यों (उन्हें) अस्पताल ले जाएं। इसलिए Omicron Variant से संक्रमित बिना लक्षण व हल्के लक्षण वाले रोगियों को Home Isolation में रखने के परिणाम स्वाभाविक रूप से सिद्ध हैं।

अधिकारी ने कहा, इसी तरह जीनोम सिक्वेंसिंग करने वाली प्रयोगशालाओं की सीमित क्षमता है। वे एक दिन में 50 से 100 नमूनों का सिक्वेंसिंग कर सकती है, लेकिन मामले अब हजारों में हैं। उन्होंने कहा कि इसी के अनुरूप भारत सरकार के निर्देशानुसार कुल नमूनों के पांच प्रतिशत को जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा जाएगा।

यह भी पढ़ें – फिर आया Corona के मामलों में जबरदस्त उछाल, बढ़ गए Omicron…

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है