West Bengal में Diwali से लेकर न्यू ईयर तक के लिए आतिशबाज़ी का Time Fix

0
272

Corona virus के ख़तरे के साथ साथ प्रदूषण भी देश के लिए एक बड़ी समस्या है। ऐसे में Delhi में पटाखों को बैन कर दिया गया है वहीं West Bengal में Diwali और काली पूजा के अवसर पर इस बार लोग केवल 2 घंटे ही आतिशबाज़ी कर सकते हैं।

राज्य सरकार की ओर से जारी आदेश में यह भी कहा गया है कि सिर्फ हरित पटाखों (कम प्रदूषण फैलाने वाले) के इस्तेमाल की इजाज़त होगी। West Bengal Pollution Control Board (WBPCB) ने एक नोटिफिकेशन में कहा है कि Diwali-काली पूजा पर रात 8 बजे से 10 बजे तक ही ग्रीन पटाखों के इस्तेमाल की इजाजत है। छठ पूजा पर भी 2 घंटे के लिए सुबह 6 से 8 बजे तक आतिशाबाजी की इजाजत दी गई है तो क्रिसमस और नए साल पर 35 मिनट के लिए यह छूट होगी।

26 अक्टूबर को जारी नोटिफिकेशन में यह भी कहा गया है कि कोलकाता और दूसरे जिलों में अक्टूबर के तीसरे सप्ताह में वायु गुणवत्ता मध्यम से संतोषजनक है। WBPCB के चेयरमैन कल्याण रूद्र ने बुधवार को कहा, ”अथॉरिटीज को आदेश को लागू कराने को कहा गया है और जो इनका उल्लंघन करें उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। पुलिस की सहयोग से हमारी टीमें सक्रियता से स्थिति की निगारानी करेंगी।”

पर्यावरणविद सुभाष दत्ता ने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि इस बात की संभावना है कि लोग आदेश का उल्लंघन करके निर्धारित समय के बाद भी आतिशबाज़ी कर सकते हैं। उन्होंने यह भी आशंका जताई कि प्रतिबंधित पटाखे भी बाजार में आ सकते हैं।

यह भी पढ़ें – CM Yogi ने नहीं किया वादा पूरा, Akhilesh Yadav ने छात्रों को बांटे ‘Free Laptop’

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है