ये Pakode देखने में ही नहीं बल्कि आपके पाचन के लिए भी हैं अच्छे

0
555

Pakode नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। सर्दी और बरसात दो ऐसे मौसम होते हैं, जिनका आनंद बिना पकौड़ों के अधूरा रहता है। अक्सर लोगों को लगता है कि Pakode खाकर वो मोटे हो जाएंगे और उनका पेट ख़राब हो जाएगा लेकिन ऐसा नहीं है ये Pakode लज़ीज़ तो होते ही हैं साथ ही पाचन भी बेहतर करते हैं। बरसात के मौसम में पकौड़ों के सीमित विकल्प होते हैं। लेकिन सर्दियों में जैसे तरह-तरह के पकौड़ों की बहार आ जाती है। प्याज़-आलू के Pakode तो आप बहुत खा चुके लेकिन इस मौसम में बनायें इन चीज़ों के Pakode।

मूंग दाल के Pakode

  • मूंग की धुली दाल सुपाच्य और स्वास्थ्य वर्धक होती है।
  • Pakode तैयार करने में इसी दाल का उपयोग किया जाता है।
  • कुछ घंटे पहले भिगोकर रखी गई दाल को पीसकर उसमें नमक-मिर्च और मसाला मिलाया जाता है और फिर इसके Pakode तैयार किए जाते हैं।

अरबी के पत्तों के Pakode

  • अरबी के पत्तों के Pakode बनाने का तरीका जरा अलग होता है।
  • बाकी सब तरह के Pakode तैयार करने के लिए सब्जी या पत्तों को बेसन में मिक्स किया जाता है।
  • जबकि अरबी के पत्तों के Pakode बनाते समय बेसन को नमक, मिर्च, मसाले के साथ गूथकर अरबी के पत्तों में लपेटा जाता है और फिर इन्हें सूती धागे से लपेटकर तेल में तला जाता है।

प्याज के Pakode

  • प्याज के Pakode एवरग्रीन पकौड़े होते हैं। यानी सर्दी, गर्मी और बरसात हर सीजन में प्याज के Pakode फुर्सत के क्षणों की रंगत बढ़ा देते हैं।
  • प्याज शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करती है।
  • यह पाचन को बेहतर बनाती है और सर्दी-जुकाम-फ्लू जैसे रोगों को शरीर से दूर रखती है।

हरी मेथी के Pakode

  • बेसन के साथ हरी मेथी को मिक्स करके तैयार किए गए Pakode सर्दियों में चाय का स्वाद बढ़ा देते हैं।
  • मेथी तासीर में बहुत गर्म होती है और यह आपके शरीर को ठंड के प्रभाव से बचाने में सहायता करती है। इसलिए सुबह या दोपहर के नाश्ते में आप इन पकौड़ों का सेवन कर सकते हैं।

फूलगोभी के Pakode

  • गोभी पाचन के लिए बहुत अधिक लाभकारी होती है।
  • आलू-गोभी की सब्जी के बिना मानों सर्दियों का स्वाद ही अधूरा रहता है। ठीक इसी तरह फूलगोभी के Pakode भी बहुत ही चाव के साथ खाए जाते हैं।
  • गोभी Pakode स्वाद और सेहत दोनों के लिए बेहतर होते हैं।

पालक के Pakode

  • हरी मिर्च और पालक दोनों ही सेहत के लिए बहुत अधिक लाभकारी होते हैं।
  • पालक शरीर में रक्त के शुद्धिकरण और हीमोग्लोबिन की स्तर को सही बनाए रखने में मदद करता है। तो वहीं हरी मिर्च पाचन के लिए बेहतर होती है।
  • बारीक कटी हरी मिर्च के साथ तैयार किए गए चटपटे पालक पकौड़े दोपहर के स्नैक्स में लिए जाए तो दिन बना देते हैं।

यह भी पढ़ें – Makhmali Kebab देखकर आपके मुंह में भी आ जाएगा पानी

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है