Uttarakhand में अब नहीं होगी हार्ट अटैक, ब्रेन स्ट्रोक-कैंसर जैसी बीमारियों से मौत

0
170

कब किसकी मौत आ जाए इस पर किसी का बस तो है नहीं, फिर भी हार्ट अटैक, ब्रेन स्ट्रोक-कैंसर जैसी बीमारियों से किसी की मौत न हो इसके लिए Uttarakhand सरकार प्रयास कर रही है। Uttarakhand में हार्ट अटैक, ब्रेन स्ट्रोक और कैंसर जैसे गैर संचारी रोगों को रोकने के लिए नई पॉलिसी तैयार होगी। इसके तहत अस्पतालों में जीवनशैली क्लीनिक शुरू किए जाएंगे। जबकि स्कूली छात्रों के रिपोर्ट कार्ड की तर्ज पर हेल्थ कार्ड बनाए जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग का फोकस अभी तक संक्रामक रोगों को नियंत्रित करने पर ज़्यादा है।

नई पॉलिसी के तहत डेंगू, मलेरिया, फ्लू आदि को रोकने के लिए कई कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। लेकिन मौजूदा समय में हार्ट अटैक, ब्रेन स्ट्रोक, कैंसर जैसी बीमारियां समाज में तेजी से पांव पसार रही हैं। खासकर बड़ी संख्या में युवा आबादी भी इन बीमारियों की चपेट में आ रही है। विशेषज्ञों का मानना है कि इसके लिए मुख्य रूप से जीवनशैली में हो रहे बदलाव जिम्मेदार हैं। आज के समय में बच्चों के खानपान में जंक फूड ने बहुत बड़ा स्थान ले लिया है। जबकि फिजिकल एक्टिविटी भी कम हो रही है। ऐसे में जीवनशैली में हो रहे बदलावों को नई पॉलिसी के केंद्र में रखा जा रहा है।

हर महीने होगी बच्चों की स्क्रीनिंग नई पॉलिसी के तहत सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में बच्चों का हेल्थ रिपोर्ट कार्ड बनाए जाने प्रस्तावित हैं। जिसमें बच्चे की स्क्रीनिंग कर सेहत के बारे में जरूरी जानकारियां लिखी जाएंगी। बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत अभी बच्चों की तिमाही स्क्रीनिंग की जाती है। लेकिन अब इसे प्रत्येक माह करने की योजना है। गैर संचारी रोगों को रोकने के लिए राज्य में पॉलिसी तैयार की जा रही है। इस संदर्भ में दो बार की बैठकें भी हो चुकी हैं। विशेषज्ञों की राय के बाद इसे अंतिम रूप दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें – Himachal Pradesh में BJP के मुफ्त वाले चुनावी वादे दिलाएंगे जीत!

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है