काफ़ी जद्दोजहद के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल के होने वाले विस्तार में आज कुल 43 मंत्री शपथ लेंगे। शाम 6 बजे होने वाले इस शपथ में ज्योतिरादित्य सिंधिया, राजीव चंद्रशेखर जैसे दिग्गज मंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं।

इस शपथ में ज्योतिरादित्य सिंधिया, राजीव चंद्रशेखर जैसे दिग्गज मंत्री पद की शपथ लेंगे। मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले नेताओं की सूची में सबसे पहला नाम नारायण राणे का है। इनके अलावा असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल, पशुपति कुमार पारस, टीकमगढ़ से सांसद डॉ. वीरेंद्र कुमार खटीक, जेडीयू के रामचंद्र प्रसाद सिंह,  मीनाक्षी लेखी, राज्यसभा सांसद अश्विनी वैष्णव, बिहार से सांसद राज कुमार सिंह, अपना दल की अनुप्रिया पटेल शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री के इस कैबिनेट विस्तार में आगामी राज्यों में होने वाले चुनावों का खास ध्यान रखा गया है। ऐसे में उत्तर प्रदेश से अनुप्रिया पटेल, कौशल किशोर, बीएल वर्मा,  सत्यपाल सिंह बघेल जैसे नेताओं को कैबिनेट में जगह मिली है। इसके अलावा उत्तराखंड से अजय भट्ट को भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। वहीं कैबिनेट में पहले से मंत्री किरण रिजीजू, हरदीप सिंह पुरी, जी किशन रेड्डी, अनुराग ठाकुर, भूपेंद्र यादव का नाम भी इस सूची में है। ऐसा कहा जा रहा है कि इन नेताओं का प्रमोशन हो सकता है।

बता दें केंद्रीय मंत्रिपरिषद में बुधवार की शाम को होने वाले फेरबदल व विस्तार से पहले कुछ मंत्रियों ने पद से इस्तीफा दे दिया, जिनमें केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, रसायन एवं उर्वरक मंत्री सदानंद गौड़ा, श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष कुमार गंगवार, शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री देबश्री चौधरी प्रमुख हैं।

सूत्रों ने बताया कि मंत्रिमंडल में फेरबदल से पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, रसायन एवं उर्वरक मंत्री सदानंद गौड़ा, श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) संतोष कुमार गंगवार, शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री देबश्री चौधरी ने इस्तीफा दिया है।

प्रधानमंत्री के रूप में मई 2019 में 57 मंत्रियों के साथ अपना दूसरा कार्यकाल आरंभ करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहली बार केंद्रीय मंत्रिपरिषद में फेरबदल और विस्तार करने वाले हैं। मौजूदा मंत्रिपरिषद में कर्नाटक के राज्यपाल बनाए गए केंद्रीय सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत सहित कुल 53 मंत्री हैं और नियमानुसार केंद्रीय मंत्रिपरिषद में सदस्यों की अधिकतम संख्या 81 हो सकती है।

जानें, कौनकौन आज शाम लेंगे मंत्री पद की शपथ

यह भी पढ़ें: जानें क्या है Corona Lambda Variant, वैक्सीन भी है इस पर बेअसर

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है