Afghanistan में हालात कैसे हैं ये पूरी दुनिया जान गई है। सर्वदलीय बैठक के बाद विदेश मंत्री S Jaishankar ने कहा कि ये बैठक करीब साढ़े तीन घंटों तक चली। 31 दलों के 37 नेताओं ने इसमें भाग लिया। लगभग सभी लोगों ने अपनी बात रखी। तालिबान के प्रति भारत सरकार के रुख के बारे में पूछे जाने पर Jaishankar ने कहा कि Afghanistan में स्थिति ठीक नहीं हुई है, इसे ठीक होने दीजिए।

S Jaishankar ने कहा कि हमने सभी राजनीतिक दलों के फ्लोर लीडर्स को आज Afghanistan की स्थिति से अवगत कराया। हमारा ध्यान निकासी पर है और सरकार लोगों को निकालने के लिए सब कुछ कर रही है। सभी दलों के विचार समान हैं, हमने मुद्दे पर राष्ट्रीय एकता की भावना से बात की।

Jaishankar ने कहा कि ऑपरेशन ‘देवी शक्ति’ के तहत हमने 6 फ्लाइट्स का संचालन किया। हम अधिकांश भारतीयों को वापस लाए हैं। लेकिन सभी को वापस नहीं ला पाए क्योंकि कुछ लोग उड़ान के दिन नहीं पहुंच सके। हम निश्चित रूप से कोशिश करेंगे और सभी को बाहर लाएंगे। हमने कुछ अफ़ग़ान नागरिकों को भी निकाला है।

सर्वदलीय बैठक के बाद कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, “यह पूरे देश की समस्या है। हमें लोगों और राष्ट्र के हितों के लिए मिलकर काम करना होगा। उन्होंने हमें वेट एंड वॉच के लिए कहा। सभी दलों ने एक ही विचार रखा है। इसका मतलब है कि अभी दूसरे देशों का क्या रुख रहेगा Taliban के बारे में, उनके बारे में, ये सब चीजें बाद में बताई जाएंगी। दूसरा मुद्दा हमने जो कहा था एक महिला डिप्लोमेट…जिसको डिपोर्ट किया गया था…तो उन्होंने कहा था कि हो गई गलती, ऐसा आइंदा नहीं होगा…इसका हम देखेंगे और बाकी जो चीजें स्टूडेंट्स हैं, Afghanistan के नागरिक जो यहां हैं उनके हित के बार में भी देखा जाएगा।”

S Jaishankar ने कहा कि सरकार जल्द से जल्द पूर्ण निकासी सुनिश्चित करने के लिए बहुत दृढ़ता से प्रतिबद्ध है। साथ ही हम अंतरराष्ट्रीय फैसलों के संदर्भ को भी देख रहे हैं और वहां पर जो सभाएं होती है, हमारी भूमिका को मान्यता दी जाती है। आने वाले दिनों में और भी कई बैठकें होंगी।

यह भी पढ़ें: Panjshir के विद्रोहियों ने घात लगाकर Taliban पर किया हमला, जानें पूरी ख़बर

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है