11 महीनों में मारे गए 211 आतंकी

जम्मू कश्मीर में आतंकी संगठनों की कमर टूट रही है सेना ने पिछले 11 महीनों में ही 211 आतंकियों को उनके सरगना समेत मार गिराया है । मारे गए आतंकियों में 50 पाकिस्तानी जबकि बाकि स्थानिय आतंकी रहे हैं ।  पाकिस्तान की शह पर भारतीय सैनिकों के खिलाफ हमले तेज करने के बीच कई आतंकी ऐसे हैं जिन्हें सेना ने या तो उनके परिवारों से बात कर आतंक के रास्ते से अलग किया है या मार गिराया है । आलम ये है की हिज्बुल मुजाहिदिन और लश्कर  जैसे आतंकी संगठन मुखिया विहिन हो चुके हैं । भारतीय सेना ने इस साल अब तक 50 के करीब आतंकियों को जिंदा गिरफ्तार किया है ।

पिछले साल इसी दौरान भारतीय सेना और जम्मू कश्मीर पुलिस ने भारतीय सीमा में घुसपैठ जम्मू कश्मीर में भारत पाक सीमा पर तारबंदी की वजह से भी मुश्कील हो गई है जिसकी वजह से भी पाकिस्तानी आतंकी संगठन भारत में हथियारों को भेजने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल कर रहे हैं । सर्जीकल स्ट्राइक और एयर सर्जीकल स्ट्राइक के बाद आतंकी संगठनों में भारतीय सेना का खौफ भी आतंकियों के डर की बड़ी वजह बना हुआ है । ये भी बड़ा कारण है की आतंकी संगठन कोई बड़ी घटना को अंजाम देने से पीछे हट रहे हैं ।  भारतीय सेना और जम्मू कश्मीर पुलिस के संयुक्त अभियान का ही नतीजा है की कश्मीर के बहुत सारे युवा आतंक का रास्ता छोड़ कर रोजगार की ओर मुड़ गए हैं । जम्मू कश्मीर के केन्द्र शाषित प्रदेश बनाए जाने के बाद युवाओं में सरकारी नौकरियों को लेकर भी उत्साह बढ़ा है ।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है