बुलेट ट्रेन को भी देगा मात Hyperloop System, जाने पूरी कहानी …

0
716

Virgin Hyperloop One सच्चाई बनने वाला है. हाई स्पीड ट्रैवल इससे मुमकिन हो सकेगा और ये बुलेट ट्रेन से भी फास्ट है।

टेक्नोलॉजी के मामले मे आज पूरी दुनिया खूब तरक्की कर रही है वो कहते है ना कोई देश कितना विकसित है इस बात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है। कि वो कौनसी टैकनोलजी इस्तेमाल कर रहा है अगर भारत की बात की जाए तो आज भारत भी किसी से पीछे नही है इसी की एक ताजा मिसाल यह है कि भारत Virgin Hyperloop One बनाने वाला है। हाई स्पीड ट्रैवल इससे मुमकिन हो सकेगा और ये बुलेट ट्रेन से भी फास्ट है. प्रोजेक्ट सक्सेस हुआ तो भारत दुनिया का पहला देश होगा जहां पैसेंजर Hyperloop System होगा।

हालांकि अब तक कहीं भी पूरी तरह से काम करने वाला Hyperloop नहीं है, लेकिन जल्द ही आ सकता है।

बुलेट ट्रेन को भी देगा मात Hyperloop System, जाने पूरी कहानी

रिपोर्ट के मुताबिक अभी काफी मुश्किलें भी हैं और ये सुनिश्चित करना भी बाकी है कि ये लोगों के लिए कितना सेफ होगा. Virgin Hyperloop को यकीन है कि ये प्रोजेक्ट शुरू किया जा सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र के एक जिले में इसके लिए डील लगभग फाइनल होने वाली है ।

महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई और पुणे के बीच Hyperloop प्रोजेक्ट के लिए हरी झंडी दे दी है. 200 किलोमीटर की दूरी है. Hyperloop से 200 किलोमीटर की दूरी 35 मिनट में पूरी किए जाने का अनुमान है. फिलहाल मुंबई से पुणे 3.5 घंटे लगते हैं।

Virgin Hyperloop One के सीईओ Jay Walder ने कहा है, ‘इतिहास बनाया जा रहा है. ये रेस दुनिया में पहले Hyperloop One ट्रांसपोर्टेशन सिस्टम के लिए है और आज किया गया ऐलान भारत को इसमें आगे करता है. ये जनता तक Hyperloop पहुंचाने के लिए उठाया गया एक बड़ा कदम है ।

उम्मीद की जा रही है कि भारत सरकार 2019 के आखिर में Virgin Hyperloop One को कॉन्ट्रैक्ट दे सकती है. अगर ऐसा हुआ तो इस प्रोजेक्ट का Phase 1 में 11.8 किलोमीटर का सेक्शन 2020 में शुरू किया जा सकता है.  Phase 1 के डेवेलपमेंट को 500 मिलियन डॉलर में पूरा किया जा सकता है।