क्या हैकिंग बहुत आसान है?

आधुनिकता के इस दौर में दुनिया डिजिटल हो चुकी है और सोशल मीडिया हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है। लेकिन क्या सोशल मीडिया पर आपका अकाउंट सुरक्षित है। ये सवाल इसलिए अहम है क्योंकि अगर डिजिटलाइजेशन बढ़ रहा है तो इसके साथ ही कई खतरे भी बढ़ गए हैं। लेकिन क्या सोशल मीडिया पर आपका अकाउंट सुरक्षित है और क्या सोशल मीडिया पर किसी का भी अकाउंट हैक किया जा सकता है। अब हर कोई अपने अकाउंट, सिस्टम और पर्सनल डिटेल्स को सुरक्षित रखना तो चाहता है लेकिन आपको बता दें कि फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया अकाउंट के पासवर्ड आसानी से चुराया जा सकता है.चलिए आपको बताते हैं कि हैकिंग असल में कितनी आसान है

हैकिंग के लिए नहीं चाहिए ज्यादा जानकारी ?

अब यूं तो हर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सुरक्षा से जुड़े कई फीचर्स हैं। लेकिन अगर सिक्योरिटी रिसर्चर की मानें तो किसी भी अकाउंट से जुड़ी कम से कम जानकारी भी हैकिंग के लिए बहुत हो सकती है. और अगर सोशल मीडिया अकाउंट होल्डर का मोबाइल नंबर मौजूद हो तो हैकिंग बेहद आसान हो जाती है

स्ट्रांग पासवर्ड क्यों है जरूरी?

सोशल मीडिया अकाउंट के लिए स्ट्रांग पासवर्ड होना बहुत जरूरी है.लेकिन अगर हैकर के पास आपका मोबाइल नंबर है तो फिर आपके अकाउंट पर कितने भी स्ट्रांग पासवर्ड का पहरा क्यों ना हो. हैकर के लिए अकाउंट हैक करना बेहद आसान हो जाता है 

हैकिंग क्यों है इतनी आसान ?

सिक्योरिटी विशेषज्ञों की मानें तो कोई भी कुशल हैकर फेसबुक हैकिंग को आसानी से अंजाम दे सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक Signalling System Number 7 नेटवर्क से हैकिंग बहुत आसान हो जाती है और टेलिकॉम नेटवर्क SS7 से हैकर्स पर्सनल फोन कॉल, मैसेज सुनने, पढ़ने और रिकॉर्ड करने से नहीं रोक पाएगा। दरअसल SS7 सिग्नल से जुड़ा प्रोटोकॉल है..जिसके जरिए सूचनाएं भेजी और हासिल की जाती हैं इसके अलावा क्रॉस कैरियर, बिलिंग समेत सिमकार्ड्स की रोमिंग में भी इसका इस्तेमाल होता है।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है