देश में भारतीय पत्रकार Danish Siddiqui की मौत के बाद से ही सभी आक्रोश मे हैं। इस दौरान Taliban ने बयान जारी किया है। तालिबान ने पत्रकार की मौत में अपनी भूमिका से साफ इनकार किया है और Danish Siddiqui की मौत पर खेद जताया है। 16 जुलाई को Danish Siddiqui कंधार में अफगानी सुरक्षा बलों और तालिबानियों के बीच हो रही झड़प को कवर कर रहे थे, तभी उनकी हत्‍या कर दी गई।

अफगानिस्तान में भारतीय फोटो जर्नलिस्ट Danish Siddiqui के निधन के बाद तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा, ‘हमें नहीं पता कि गोलीबारी के दौरान पत्रकार को किसकी गोली लगी और कैसे उनकी मौत हुई। हमें भारतीय पत्रकार Danish Siddiqui की मौत पर खेद है।’

इसके साथ ही तालिबान ने कवरेज के लिए आने वाले पत्रकारों को सलाह भी दी। मुजाहिद ने आगे कहा, ‘युद्ध क्षेत्र में प्रवेश करने वाले किसी भी पत्रकार को हमें सूचित करना चाहिए। इससे हम उस व्यक्ति विशेष की उचित देखभाल करेंगे। हमें खेद है कि पत्रकार हमें सूचना दिए बिना वॉर-जोन में प्रवेश कर रहे हैं।’

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के साथ काम करने वाले Danish Siddiqui का शव रेड क्रॉस की अंतर्राष्ट्रीय समिति (ICRC) को सौंप दिया गया है। उनके शव को अब भारत लाने की तैयारी की जा रही है।

यह भी पढ़ें: अफ़ग़ानिस्तान में भारतीय पत्रकार Danish Siddiqui की कवरेज के दौरान हत्या

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है