किराए की ‘कोख’ पर CM Dhami की नज़र, बनने जा रहा है Surrogacy Act

0
181

किसी की ‘कोख’ का कोई फायदा उठाए इस बात में कोई बुराई नहीं लेकिन किसी की ‘कोख’ का बार बार फायदा उठाया जाए ये अपराध माना जाएगा। इस अपराध को रोकने के लिए अब Uttarakhand में नया नियम बनने जा रहा है। बच्चे पैदा करने को किराए की कोख का प्रचलन बढ़ने के बाद Uttarakhand में Dhami सरकार अब Surrogacy Act तैयार करने जा रही है।

स्वास्थ्य विभाग ने इस संदर्भ में प्रस्ताव तैयार करना शुरू कर दिया गया है। यह प्रस्ताव कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद विधानसभा में पेश किया जाएगा। विदित है कि अब काफी लोग बच्चे पैदा करने के लिए Surrogacy की मदद लेते हैं। इसमें किसी अन्य महिला की सहमति से किराये की कोख के जरिए बच्चे पैदा किए जाते हैं। हालांकि इसके लिए Uttarakhand में अभी तक कोई नियम नहीं है। इस वजह से कई बार लोग धोखाधड़ी और अन्य कई तरह की परेशानियों में फंस जाते हैं। इसे देखते हुए अब स्वास्थ्य विभाग के स्तर पर Surrogacy Act तैयार करने का निर्णय लिया गया है।

स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने बताया कि Surrogacy Act में केंद्रीय नियमों के साथ राज्य की ओर से भी कुछ प्रस्ताव रखे जाएंगे। जिससे भविष्य में Surrogacy के दौरान नियमों और कायदे कानूनों का पालन संभव हो सके। स्वास्थ्य महानिदेशालय के अधिकारियों ने बताया कि Surrogacy Act के लिए प्रस्ताव बनाने का काम शुरू हो गया है। इसे जल्द अंतिम रूप देकर कैबिनेट की मंजूरी के लिए लाया जाएगा।

जानकार बाते हैं कि Surrogacy (किराये की कोख से बच्चा पैदा करना) के लिए सख्त कानून की जरूरत इसलिए है क्योंकि इसमें कमजोर महिला के शोषण का खतरा रहता है। इसके साथ ही इस प्रक्रिया में स्वास्थ्य और मनोवैज्ञानिक जोखिम होते हैं। जिस तेजी से समाज में Surrogacy बढ़ रही है उसे देखते हुए अब इसके लिए सशक्त कानून की जरूरत महसूस हो रही है। इस पूरी प्रक्रिया और उसके बाद कई बार आपसी विवाद की स्थिति पैदा हो जाती है जिससे परेशानी खड़ी होने का खतरा रहता है। नैतिक विषय होने की वजह से भी इसमें सख्त कानून की जरूरत पड़ रही है।

यह भी पढ़ें – RIP Raju Srivastava: भावुक होकर बोले PM Modi – बहुत जल्दी छोड़कर चले गए राजू…

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है