राजकुमारी का मोटापा और चेहरे पर मूंछे देख फ़िदा हो जाते थे नौजवान

‘मोटापा’ एक ऐसी चीज़ है जिसे आज के वक़्त में शायद ही कोई पसंद करता हो लेकिन 19वीं सदी में मोटापे को ही खूबसूरत समझा जाता था। ईरान की राजकुमारी ताज अल कजर सुल्ताना ने सुंदरता के सभी मानकों को तोड़ दिया था। उनके चेहरे पर मूंछे और घनी भौहें थी। इसके साथ ही वो काफी मोटी भी थी। बावजूद इसके भी उन्हें काफी सुंदर माना जाता था, उनके प्यार में 13 नौजवानों ने खुदकुशी भी कर ली थी।

World Population Day 2020 : गांवों में अभी भी लोगों को अधिक जागरुक करने…

सुबह उठते ही लोग न जाने क्या क्या करते हैं, पूजा करने का समय मिले न मिले लेकिन जिम जाने का वक़्त तो निकालना ही है। जिम तो जैसे नौजवानों की जान बन चुका है। लड़की हो या लड़का सबको फिट दिखना है। मोटापा तो कोई भूत सा लगता है जो जिसपर आ गया तो लोग उस इंसान को पसंद करना छोड़ देंगें। बता दें कि कुछ वक़्त पहले ऐसा नहीं था। 19वीं सदी में मोटापे को ही खूबसूरत समझा जाता था। उस सदी की ईरान की राजकुमारी की सुंदरता के किस्से आज भी याद किए जाते हैं। राजकुमारी ताज अल कजर सुल्ताना आम सी शक्ल सूरत वाली महिला थी। साधारण सा चेहरा, उसपर मूंछे और घनी भौहें थी, इसके साथ ही वो काफी मोटी भी थी। भले ही आपको ये सब जानकर थोड़ा आश्चर्य हो रहा होगा लेकिन इसके बावजूद भी उन्हें काफी सुंदर माना जाता था।

19वीं सदी की ऐसी मोटी राजकुमारी जिसके प्यार में कई नौजवान थे पागल

आज के समय में किसी लड़की की खूबसूरती, उसके शक्ल, शरीर की बनावट और चेहरे पर निर्भर करती है। लेकिन हर जगह खूबसूरती के पैमाने भी अलग-अलग होते हैं। बताया जाता है कि 19वीं सदी में ज्यादातर नौजवान, राजकुमारी की सुंदरता के कायल थे और उनसे शादी करना चाहते थे। हालांकि, राजकुमारी कजर ने सबके प्रस्तावों को ठुकरा दिया था। कहा ये भी जाता है कि राजकुमारी की इस बात से आहत होकर 13 नौजवानों ने खुदकुशी कर ली थी। बता दें कि इन प्रस्तावों को ठुकराने के पीछे वजह ये भी थी की राजकुमारी की शादी पहले ही अमीर हुसैन खान शोजा ए सल्तनेह से हो चुकी थी। इस शादी से उन्हें दो बेटियां और दो बेटे थे। हालांकि, बाद में उनका तलाक हो गया।

चीन की स्थानीय मीडिया ने डोकलाम विवाद को गालवान से जोड़ा

राजकुमारी उस दौर की आधुनिक महिलाओं में से एक थी। वो पश्चिमी सभ्यता से काफी प्रेरित थी और वेस्टर्न कपड़े पहनती थीं। राजकुमारी कजर हिजाब उतारने वाली उस दौर की पहली महिला मानी जाती हैं। राजकुमारी का ये किस्सा पढ़कर आपको इस बात को समझ लेना चाहिए की मोटापा अभिशाप नही है लेकिन ज़रुरत से ज़्यादा हर चीज़ बुरी होती है इसलिए फिट रहना बेहद ज़रूरी है।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है