Maharashtra की सियासत में लग रहे ’50 खोखे एकदम ओके’ के नारे

0
197

सियासत किसी की भी हो विपक्ष के नेता किसी न किसी बात पर विरोध तो करते ही हैं। Maharashtra में जब से नई सरकार का गठन हुआ है, तभी से सत्ता पक्ष और विपक्ष में तकरार की घटना सामने आ रही है। इस बीच मानसून सत्र के पांचवें दिन विधानमंडल बाहर मुख्यमंत्री Eknath Shinde की अगुवाई वाले गुट और विपक्षी विधायकों के बीच तीखी नोकझोंक देखने को मिली।

पिछले चार दिनों में विपक्ष ने जमकर नारेबाज़ी की थी। इसके खिलाफ भाजपा के विधायक बुधवार सुबह से ही धरना दे रहे थे। इन विधायकों ने Covid भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भी बैनर लगाए। रोहित पवार और अमोल मितकारी के नेतृत्व में विपक्ष के विधायक उन्हें जवाब देने के लिए पहुंचे। वे भी तख्तियां लेकर नारेबाजी करने लगे। इस मौके पर विपक्ष के विधायकों ने ‘गाजर देना बंद करो, सूखा घोषित करो’ जैसे नारे लगे। यह सब चल ही रहा था कि सत्ता पक्ष और विपक्ष आमने-सामने आ गए। दोनों पक्षों के विधायकों के आक्रामक होने पर हाथापाई हो गई।

एनसीपी नेता अमोल मितकारी गुस्से में सत्ताधारी विधायकों पर दौड़ते नज़र आए। इससे विधानसभा परिसर में भारी हंगामा हुआ। अंत में विपक्ष के नेता अजीत पवार ने हस्तक्षेप किया और विपक्षी विधायकों को एक तरफ ले गए। इसके बाद मामला शांत हुआ।

मानसून सत्र के पहले चार दिनों के दौरान महाविकास अघाड़ी के विधायकों ने विधानमंडल की सीढ़ियों पर अपनी नारेबाजी से सबका ध्यान खींचा था। महाविकास अघाड़ी ने ‘आला रे आला, गद्दार आला’, ’50 खोखे एकदम ओके’, ‘गदरानान बीजेपी ची तत्त्वी, चलो चले गुवाहाटी’ जैसे नारों से शिंदे समूह और भाजपा को परेशान कर दिया था। इससे सत्ता पक्ष के विधायक दुविधा में थे। सत्र के पांचवें दिन BJP-शिंदे गुट ने अपनी रणनीति बदल ली है।

महाविकास अघाड़ी के विधायकों की तरह भाजपा विधायक बुधवार को भी विधानमंडल की सीढ़ियों पर बैठ गए। इन विधायकों ने महाविकास अघाड़ी के ’50 खोके-ओक्के’ का करारा जवाब दिया। भाजपा के इन विधायकों ने बैनर लगाए। इस मौके पर BJP और शिंदे समूह के विधायकों ने भी कई नारे लगा। “बीएमसी के बक्से, मातोश्री के ओके”, “स्थायी समिति के बक्से, मातोश्री के ओके”, “सचिन वाज़े के बक्से, मातोश्री के ओके” जैसे नारों ने मीडिया का ध्यान खींचा।

यह भी पढ़ें – Aryan Khan के पोस्ट पर Shah Rukh Khan बोले – मेरे पास ये तस्वीरें क्यों नहीं हैं? मुझे अभी दो

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है