Uttarakhand में करें जन्नत का दीदार, पर्यटकों के लिए खुली फूलों की घाटी

0
168

देश में हो जन्नत तो क्यों जाएं विदेश। हमारा देश इतना ख़ूबसूरत है जिसका आप अंदाज़ा भी नहीं लगा सकते। जिसने ये ख़ूबसूरत नज़ारा देखा है वो देश छोड़कर विदेश घूमने भी नहीं जाना चाहता। Uttarakhand के चमोली जिले में हिमालय की गोद में स्थित विश्व प्रसिद्ध फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान बुधवार(1 जून) से पर्यटकों के लिए खोल दी गई।

पहले दिन प्रकृति प्रेमियों ने रंग-बिरंगे फूलों का दीदार किया। सीएम Pushkar Singh Dhami ने भी सोशल मीडिया पर फूलों की घाटी की ख़ूबसूरत तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा कि यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल, दुर्लभ वनस्पतियों से समृद्ध Uttarakhand के चमोली में स्थित वैली ऑफ फ्लावर्स को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। उन्होंने कहा कि Uttarakhand सरकार आप सभी पर्यटकों का हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन करती है।

वन अधिकारी ने बताया कि चारों तरफ से बर्फ से ढकी चोटियों के बीच स्थित घाटी में फूलों अलावा अनेक प्रकार की जड़ी-बूटियां तथा विभिन्न प्रकार के पक्षी भी हैं। उन्होंने बताया कि फूलों की घाटी में पर्यटक अपराह्न दो बजे तक रुक सकते हैं जिसके बाद उन्हें तीन किलोमीटर दूर आधार शिविर घांघरियां लौटना होगा। फूलों की घाटी 31 अक्टूबर तक खुली रहेगी। Covid-19 के कारण पिछले दो साल से फूलों की घाटी पर्यटकों के लिए बंद थी। 2019 तक यहां हर साल करीब 20 हजार पर्यटक आते थे।

प्रभागीय वन अधिकारी नंदा बल्लभ जोशी ने बताया कि पहले दिन एक विदेशी सहित कुल 75 पर्यटकों ने फूलों की घाटी का भ्रमण किया। उन्होंने बताया कि 87.5 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल में फैली घाटी में जून से अक्टूबर तक करीब 500 प्रजाति के फूल खिलते हैं। इन दिनों यहां 12 प्रजातियों के फूल पूरी तरह खिले हुए हैं जो अपनी सुंदरता के कारण बरबस पर्यटकों का मन मोह रहे हैं।

यह भी पढ़ें – उपचुनाव में Pushkar Singh Dhami ने लहराया जीत का परचम

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है