जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ लगातार जारी है। आतंकियों और मुठभेड़ के बीच चल रही मुठभेड़ का आज तीसरा दिन है, जिसमें कई घंटे तक हुई फायरिंग में सुरक्षाबलों ने दूसरे आतंकी को भी ढ़ेर कर दिया है। मारे गए आतंकी की पहचान जैश-ए-मोहम्मद के टॉप कमांडर विलायत उर्फ Sajjad Afghani के रूप में की गई है। कश्मीर जोन के आईजी विजय कुमार द्वारा सुरक्षाबलों को इस सफल ऑपरेशन के लिए बधाई दी गई है। उन्होंने कहा कि सज्जाद का मुठभेड़ में मारा जाना सुरक्षाबलों के लिए एक बड़ी कामयाबी है। इससे पहले सुरक्षाबलों ने रविवार को जैश आतंकी नारपोरा निवासी जहांगीर अहमद वानी को ढ़ेर कर दिया था। उसके पास से एम-4 कार्बाइन, मैगजीन, 9600 रुपये नकद और कई अन्य सामग्री भी बरामद की गई थी। ऑपरेशन के दौरान एक पुलिस कर्मी और एक नागरिक के चोट भी लगी थी। साथ ही इस मुठभेड़ में तीन घर भी क्षतिग्रस्त हुए थे।

बता दें कि शनिवार की शाम को सुरक्षाबलों को रावलपोरा गांव में आतंकियों के मौजूद होने की सूचना मिली थी। सूचना मिलने के बाद सेना, सीआरपीएफ और पुलिस द्वारा पूरे इलाके को घेर लिया गया था। रात के लगभग 8 बजे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग करनी शुरू कर दी और घेराबंदी तोड़कर फरार होने की कोशिश में थे। और वहां पर Sajjad Afghani सहित सभी आतंकियों ने छह नागरिकों को बंधक भी बना लिया था।

हालांकि सुरक्षाबलों ने सभी नागरिकों को रात को ही सुरक्षित बाहर निकाल लिया था। रात में अंधेरा हो जाने के बाद सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन को स्थगित कर दिया था, लेकिन गांव से बाहर जाने के सभी रास्ते बंद कर दिए गए थे। रविवार सुबह होते ही सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन फिर से शुरू करते हुए Sajjad Afghani नामक एक आतंकी को ढ़ेर कर दिया। पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक, मारा गया आतंकी जहांगीर एक सितंबर 2020 के बाद से सक्रिय था और सुरक्षाबलों पर हमले और नागरिकों के उत्पीड़न के मामले में इसकी मौजूदगी थी।

यह भी पढ़ें: सीएम Mamta Banerjee ने व्हीलचेयर पर रैली को किया संबोधित

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है