North Korea ने हाल ही में दो कम दूरी वाली मिसाइलों का परीक्षण किया है। अमेरिकी और South Korea आधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है। हालांकि, America इसके बावजूद बातचीत के लिए तैयार है। जो बाइडन के राष्ट्रपति बनने के बाद उत्तर कोरिया ने पहली बार मिसाइल का परीक्षण किया है। बता दें कि पिछले दिनों North Korea ने बातचीत के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। उसने कहा था कि बातचीत तब तक मुमकिन नहीं है जबतक America उसके प्रति विरोधी नीतियों को नहीं छोड़ता। America बातचीत के लिए विभिन्न माध्यमों से संपर्क कर चुका है, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली है।

बाइडन प्रशासन के के दो वरिष्ठ अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि North Korea ने ऐसे मिसाइलों की परीक्षण की है, जिनपर यूएन सुरक्षा परिषद का प्रतिबंध नहीं South Korea की सेना ने कहा कि रविवार को North Korea के पश्चिमी तट से दो क्रूज मिसाइलें दागी गईं। जनवरी में बाइडन के अमेरिकी राष्ट्रपति का पदभार संभालने के बाद से North Korea ने पहली बार मिसाइल का परीक्षण किया। इसे लेकर America राष्ट्रपति ने कहा कि बहुत कुछ नहीं बदला है। उन्होंने जो किया वह कोई नई बात नहीं है। बाइडन ने यह बात ओहायो की यात्रा से लौटने पर संवाददाताओं से कही। इस दौरान उनसे पूछा गया कि क्या उत्तर कोरिया द्वारा किया गया परीक्षण उकसाने के लिए था?

America के अधिकारियों ने कहा है कि North Korea को लेकर बाइडन प्रशासन की नीति की पूर्ण समीक्षा के अंतिम चरण में है। इस पर वह अगले सप्ताह सहयोगी देशों Japan और South Korea के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के साथ चर्चा करने वाला है। एक अधिकारी ने कहा कि फरवरी 2019 में हनोई में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और North Korea के नेता किम जोंग उन के बीच विफल शिखर सम्मेलन के बाद North Korea के साथ ‘बहुत कम बातचीत’ हुई है। इस दौरान अमेरिका ने South Korea को अपने परमाणु हथियारों को छोड़ने के लिए मनाने  की कोशिश की थी।

यह भी पढ़ें: Holi पर मंडराया Corona का ख़तरा, जानें गाइडलाइंस

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है