ब्राजील के राष्ट्रपति कोविड वैक्सीन लगवाने को नहीं तैयार

कोरोनावायरस बेहद ख़तरनाक वायरस है ये जानते हुए भी लोग कोविड वैक्सीन का इंतज़ार कर रहे हैं। सभी को ये लग रहा है कि इस वैक्सीन के उन्हें कोरोना से निजात मिल जाएगी लेकिन इस वैक्सीन के साइड इफेक्ट के बारें में कोई नहीं जानता है। ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो ने कोरोनावायरस की वैक्सीन को लेकर निशाना साधा है। उन्होंने यहां तक कहा है कि फाइज़र और बायोएनटेक की बनाई वैक्सीन लोगों को मगरमच्छ बना सकती है या इसके प्रभाव से महिलाओं की दाढ़ी तक आ सकती है।

कोविड वैक्सीन के साइड इफेक्ट के बारें जान कर ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोल्सनारो ने कोविड वैक्सीन न लगवाने का फैसला किया है। बता दें कि शुरुआत से ही ब्राजील के राष्ट्रपति कोरोनावायरस को लेकर संदेहास्पद स्थिति में दिखे हैं। उन्होंने बीते साल इस वायरस को ‘मामूली फ्लू’ बताया था। देश में सामूहिक टीकाकरण की शुरुआत के बावजूद उन्होंने कहा है कि वह कोरोनावायरस का टीका नहीं लगवाएंगे।

ब्राजील में अब तक कोरोनावायरस के 71 लाख से ज्यादा मामले आ चुके हैं जिनमें से 1 लाख 85 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई हैं। बोल्सोनारो ने गुरुवार को कहा, ‘फाइज़र के कॉन्ट्रैक्ट में साफ-साफ लिखा है कि किसी भी साइड इफेक्ट के लिए वे जिम्मेदार नहीं होंगे।’ बोल्सोनारो ने कहा कि वैक्सीन से अगर आप मगरमच्छ बन जाते हैं तो यह आपकी समस्या है।

वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों को लेकर बोल्सोनारो ने कहा, ‘अगर आप सुपरह्यूमन बन जाएं, अगर एक महिला को दाढ़ी आने लगे या फिर किसी पुरुष की आवाज औरतों सी हो जाए, तो भी उनका इससे कोई लेना-देना नहीं होगा।’ उन्होंने कहा कि वैक्सीन को एक बार ब्राजील कि रेग्युलेटरी एजेंसी Anvisa से मंजूरी मिलने पर यह सबके लिए उपलब्ध होगी लेकिन मैं यह टीका नहीं लगवाऊंगा।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है