Santishree Dhulipudi Pandit बनीं JNU की पहली महिला कुलपति

0
250

देश के प्रतिष्ठित Jawaharlal Nehru University(JNU) का नया कुलपति प्रोफेसर Santishree Dhulipudi Pandit को नियुक्त किया गया है। एक लम्बे वक़्त के बाद Dhulipudi Pandit JNU की पहली महिला कुलपति होंगी। इनका कार्यकाल पांच साल का होगा।

JNU की 13वीं कुलपति बनने जा रही Santishree Dhulipudi Pandit प्रोफेसर एम. जगदीश कुमार की जगह लेंगी जिन्हें विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। पिछले साल JNU के कुलपति के तौर पर अपने पांच साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद से एम जगदीश कुमार कार्यवाहक कुलपति के तौर पर जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रहे थे। बता दें कि वह ऐसे समय में यूनिवर्सिटी की कमान संभाल रही हैं जब पूर्व कुलपति कुमार और छात्रों के एक वर्ग के बीच कई मुद्दों को लेकर मतभेद रहे हैं। ऐसे में सभी विद्यार्थियों के साथ अच्छे संबंधों को बहाल करना उनकी प्राथमिकताओं में से एक रहेगा।

Santishree Dhulipudi Pandit इससे पहले वह सावित्री बाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर थीं। साथ ही Santishree JNU की पूर्व छात्रा रही हैं। उन्होंने यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज से 1986 में एमफिल और 1990 में पीएचडी की डिग्री हासिल की। इससे पहले उन्होंने मद्रास स्थित प्रेजिडेंसी कॉलेज से राजनीति विज्ञान में पोस्ट ग्रेजुएशन की थी। सावित्री बाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी से पहले वह गोवा यूनिवर्सिटी में भी पढ़ा चुकी हैं। 59 साल की शांतिश्री का जन्म रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में हुआ था। तब उनकी मां वहां के लेनिनग्रेड ओरिएंटल फैकल्टी डिपार्टमेंट में तमिल व तेलुगू विषयों की प्रोफेसर थीं।

यह भी पढ़ें – इस Gaon की सुध लेने वाला कोई नहीं, अंधेरे में रहने को मजबूर लोग

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है