विरोध के बीच Ranil Wickremesinghe चुनाव जीतकर बने Sri Lanka के नए राष्ट्रपति

0
275

इन दिनों Sri Lanka में जिस तरह के हालात हैं वो किसी से छुपे नहीं हैं। अच्छी बात ये है कि सियासी और आर्थिक संकट के बीच Sri Lanka के नए राष्ट्रपति का फैसला हो गया है। बुधवार(20 जुलाई) को हुए चुनाव में Ranil Wickremesinghe ने जीत हासिल कर ली है।

ख़ास बात है कि देश के नागरिक पूर्व राष्ट्रपति Gotabaya Rajapaksa के अलावा Ranil Wickremesinghe के नाम का भी विरोध कर रहे थे। देश की राष्ट्रपति की गद्दी के लिए तीन और उम्मीदवार मैदान में थे। आधिकारिक आंकड़े बताते हैं कि 6 बार के प्रधानमंत्री रह चुके Ranil Wickremesinghe ने 134 मतों से जीत हासिल की है। चुनाव जीतने के बाद उन्होंने ने देश की जनता को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि देश बहुत मुश्किल स्थिति में है, हमारे सामने कई बड़ी चुनौतियां हैं। उनके अलावा डलास अल्हाप्पेरुमा और वामपंथी जनता विमुक्ति पेरामुना (जेवीपी) के नेता अनुरा कुमारा दिसानायके भी चुनाव लड़ रहे थे। बता दें कि Gotabaya Rajapaksa के बाद Ranil कार्यवाहक राष्ट्रपति की जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

चुनाव में 82 मतों के साथ दूसरे नंबर पर अल्हाप्पेरुमा रहे। जबकि, दिसानायके को केवल तीन वोट मिले। इससे पहले राष्ट्रपति पद की रेस में प्रमुख विपक्षी नेता सजित प्रेमदासा का नाम भी चर्चा में आ रहा था, लेकिन उन्होंने खुद ही उम्मीदवार के तौर पर चुनाव से दूरी बनाने का ऐलान कर दिया था।

देश की जनता पहले Ranil Wickremesinghe का विरोध कर रही थी। कई प्रदर्शनकारी उन्हें और गोटबाया दोनों को बाहर करने की मांग कर रहे थे। अब कहा जा रहा है कि देश में यह जीत और ज्यादा विरोध प्रदर्शन शुरू कर सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अल्हाप्पेरुमा को प्रदर्शनकारी पसंद कर रहे थे, लेकिन उनके पास शासन के शीर्ष स्तर का खास अनुभव नहीं था।

यह भी पढ़ें – NEET Exam 2022 : छात्राओं से अभद्रता, NEET नहीं NO इनरवियर परीक्षा 

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है