लंदन में Rahul Gandhi बोले – हमारे प्रधानमंत्री किसी की नहीं सुनते

0
150

जिस भारत देश में हम रहते हैं अब वहां कुछ भी बोलने की अनुमति नहीं मिलेगी ऐसा सोच कर ही हम डर जाते हैं लेकिन सच के लिए आवाज़ उठाने का अधिकार सभी को है। यही वजह है कि भारत एक ऐसा देश नहीं बन सकता जहां बोलने की अनुमति नहीं हो। Rahul Gandhi ने शुक्रवार(20 मई) को लंदन में ‘आइडिया फॉर इंडिया’ सम्मेलन में यह बात कही। Rahul Gandhi ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाते हुए केंद्र सरकार के खिलाफ अपना आक्रामक कदम उठाया।

Rahul Gandhi ने कहा, “प्रधानमंत्री का रवैया होना चाहिए कि ‘मैं सुनना चाहता हूं’। लेकिन हमारे प्रधानमंत्री नहीं सुनते हैं। आपके पास ऐसा देश नहीं हो सकता जहां बोलने की अनुमति नहीं हो। पीएमओ स्वतंत्र रूप से नहीं बोल सकता है।”

चर्चा के दौरान Rahul Gandhi ने बीजेपी और आरएसएस पर निशाना साधने का भी कोई मौका नहीं छोड़ा। राहुल ने कहा, “हम मानते हैं कि भारत अपने लोगों के बीच बातचीत करता है। भाजपा और आरएसएस का मानना है कि भारत एक भूगोल है। यह एक ‘सोने की चिड़िया’ है, जिसका लाभ कुछ लोगों को वितरित किया जाना चाहिए। हम मानते हैं कि सभी की समान पहुंच होनी चाहिए। चाहे आप दलित हों या फिर ब्राह्मण। यही असली संघर्ष है।”

Rahul Gandhi ने लंदन में आयोजित कार्यक्रम के दौरान कहा, “आज उन संस्थानों पर एक व्यवस्थित हमला हो रहा है जो कि बातचीत की अनुमति देते हैं। संविधान पर हमला हो रहा है। नतीजा यह है कि भारत के राज्य अब बातचीत करने में सक्षम हैं।”

यह भी पढ़ें – मुसीबत में 3000 तीर्थयात्री, सड़क धंसने से यमुनोत्री Highway बंद

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है