Laal Singh Chaddha पर बोले R Madhavan, अगर अच्छी फिल्में बनेंगी तो चलेंगी भी

0
171

Bollywood में इन दिनों फ़िल्में फ्लॉप होने का जैसा सिलसिला ही चल पड़ा है। Aamir Khan की फिल्म Laal Singh Chaddha बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप साबित हो चुकी है। वहीं अक्षय कुमार की मूवी रक्षा बंधन को भी दर्शक नहीं मिले। सोशल मीडिया पर बॉलीवुड फिल्मों का बॉयकॉट चल रहा है। वहीं कई लोग हिंदी वर्सस साउथ पर भी डिबेट कर रहे हैं।

बॉलीवुड के कैंसिल कल्चर पर अब तक कई लोगों के बयान आ चुके हैं। अब R Madhavan भी इस पर बोले हैं। उनका कहना है कि अगर अच्छी फिल्में बनेंगी तो चलेंगी भी। R Madhavan ने यह भी कहा कि कोविड-19 के बाद लोगों की पसंद थोड़ी बदली है। इस लिहाज से थोड़ा प्रोग्रेसिव होना पड़ेगा। R Madhavan फिल्म Laal Singh Chaddha पर भी बोले।

फिल्म Laal Singh Chaddha छह दिनों में 50 करोड़ रुपये का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाई। वहीं बीते कुछ वक्त में कई फिल्मों का यही हाल हुआ। अक्षय कुमार की रक्षा बंधन, सम्राट पृथ्वीराज, शमशेरा सहित कई मूवीज बॉक्स ऑफिस पर पानी मांगती दिखीं। दूसरी ओर पुष्पा, आरआरआर, केजीएफ चैप्टर 2, विक्रम और विक्रांत रोणा जैसी फिल्मों ने अच्छी कमाई की। इन फिल्मों के हिंदी वर्जन्स का ज़बरदस्त बज रहा। अब इस मुद्दे पर R Madhavan भी बोले।

R Madhavan से पूछा गया कि लाल सिंह चड्ढा जैसी बड़ी फिल्म अच्छा परफॉर्म नहीं कर पाई, इस पर क्या कहेंगे। R Madhavan ने जवाब दिया, अगर हमें पता होता तो हम सब हिट फिल्में बना लेते। कोई यह नहीं सोचता कि हम गलत फिल्म बना रहे हैं। इस फिल्म (लाल सिंह चड्ढा) के पीछे भी उतनी ही मेहनत और लगन थी जितनी हर फिल्म के लिए ऐक्टर करते हैं। इसलिए जितनी भी बड़ी फिल्में रिलीज होती हैं, मकसद यही होता है कि अच्छी फिल्म बने और चले।

R Madhavan ने कहा कि साउथ फिल्में बहुत अच्छा परफॉर्म कर रही हैं, यह परसेप्शन गलत है क्योंकि साउथ इंडस्ट्री की कुछ ही फिल्में चली हैं। R Madhavan ने कहा कि इसे पैटर्न नहीं कहा जा सकता। साउथ फिल्मों पर R Madhavan बोले, जहां तक साउथ फिल्मों की बात है, बाहुबली 1, बाहुबली 2, RRR, पुष्पा, KGF: Chapter 1 और KGF: Chapter 2 ही ऐसी फिल्में थीं जिन्होंने हिंदी फिल्म ऐक्टर्स वाली फिल्मों से ज्यादा कमाई की। ये सिर्फ छह फिल्में हैं। इन्हें हम पैटर्न नहीं कह सकते। अगर अच्छी फिल्म आएगी तो चलेगी ज़रूर।

R Madhavan ने बताया कि हिंदी फिल्में क्यों नहीं चल पा रहीं। उन्होंने कहा कि Covid-19 के बाद लोगों की पसंद और प्रिफरेंस बदल गई है…अगर हम चाहते हैं कि लोग फिल्में देखें तो हमें ऐसी फिल्में बनानी होंगी जो कि थोड़ी प्रोग्रेसिव हों।

यह भी पढ़ें – क्या Raju Srivastava ज़िंदा हैं! कॉमेडियन के मैनेजर का बयान आया सामने

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है