महंगाई की मार, बढ़ गए Ayurvedic दवाइयों के दाम

0
261

देश महंगाई की मार झेल रहा है लेकिन सरकार अभी भी सब कुछ सही होने का दावा कर रही है। बड़े बड़े नेताओं को तो कुछ फ़र्क़ पड़ता नहीं है लेकिन गरीब आदमी की जेब खाली ही रह जाती है। Haridwar में Ayurvedic औषधियां 66 फीसदी तक महंगी हो गई हैं। आंवला दो सौ रुपये, अश्वगंधा आठ सौ रुपये, शतावर आठ सौ रुपये और कुटकी 18 सौ रुपये प्रति किलो के दाम से बाज़ारों में मिल रही है।

महंगाई का असर अब औषधियों पर भी पड़ता नज़र आ रहा है। Ayurvedic औषधियों के दामों में 23 फीसदी से 66 फीसदी तक इजाफा हुआ है। औषधि कमल गट्टा 66 फीसदी महंगा हुआ है। आंवला 33, अश्वगंधा 23, शतावर 60, मुरब्बा सेब 33, मुरब्बा आंवला 50, शिकाकाई 50, कुटकी 50 और पनीर डोडी 46 फीसदी महंगी दरों से बाज़ारों में बिक रही है। Ayurvedic औषधियों के दाम पिछले चार माह में बढ़े हैं।

Ayurvedic औषधियों का उपयोग करने वाले लोगों का कहना है कि इससे इलाज काफी सस्ता पड़ता था। अंग्रेजी दवाइयों के मुकाबले Ayurvedic दवाइयां काफी सस्ती मिलती थीं और इलाज भी अच्छा होता था। लेकिन अब इन औषधियों के दाम भी बढ़ते जा रहे हैं। जनता की पहुंच से Ayurvedic इलाज बाहर होता जा रहा है। लगातार जड़ी बूटियों के दाम बढ़ रहे हैं। महंगाई में गरीब जनता पिसती जा रही है।

महंगाई का असर औषधियों पर भी पड़ा है। औषधियां पीछे से ही महंगी मिल रही है। Ayurvedic कंपनियां भी हर महीने अपने उत्पादों के दाम बढ़ा देती हैं। आगे भी दाम कम होने की कोई उम्मीद नही है। पिछले चार महीनों में औषधियों के दाम में बड़ा इज़ाफ़ा हुआ है। रोज़ाना प्रयोग होने वाली औषधियां अब महंगी हो गई हैं। देखा जाए तो अब औषधियों, जड़ी बूटी भी जनता की पहुंच से बाहर होती जा रही हैं।

जानें किसके कितने दाम (रुपये में) बढ़े

  • औषधि       दाम पहले       दाम अब
  • आंवला          150         200
  • अश्वगंधा         650         800
  • शतावर          550         800
  • शिकाकाई       120        180
  • कमल गट्टा       300        500
  • कुटकी           1200      1800
  • पनीर डोडी      150         220
  • मुरब्बाआंवला    100         150

यह भी पढ़ें – ठीक नहीं है Raju Srivastava की हालत, नहीं हो रहा है कोई भी सुधार

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है