अगले 6 महीनों के भीतर पश्चिम बंगाल में चुनाव होने हैं, बीजेपी पश्चिम बंगाल में चुनाव जीतने के लिए ऐड़ी चोटी का जोर लगा रही है। बीजेपी लगातार पश्चिम बंगाल में अभियान तेज कर रही है। बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृहमंत्री अमित शाह बंगाल में एक्टिव नजर आ रहे हैं। जाहिर सी बात है कि बीजेपी इस बार ममता के गढ़ में सेंधमारी करने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहती

ऐसे में जब बीजेपी पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए अपने स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी करेगी तो उसमें योगी आदित्यनाथ का शामिल होना तय माना जा रहा है। सवाल उठता है कि क्या बीजेपी योगी मॉडल के जरिए पश्चिम बंगाल में चुनावी जीत का रास्ता तैयार करेगी

दरअसल जब कभी भी चुनाव होते हैं तो यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बीजेपी के पक्ष में वोटरों को रिझाने के लिए रैलियां करते नजर आते हैं। इससे पहले जब बिहार में विधानसभा चुनाव और हैदराबाद में नगर निगम चुनाव हुए थे उस दौरान भी योगी आदित्यनाथ बीजेपी के लिए चुनावी रैलियों में ताल ठोंकते नजर आए थे। ऐसे में इतना तो तय है कि पश्चिम बंगाल चुनाव में भी हिंदू वोटरों को रिझाने के लिए चुनावी रैलियां करते नजर आएंगे

उम्मीद जताई जा रही है कि सीएम योगी आदित्यनाथ पश्चिम बंगाल चुनाव में रैलियों के दौरान कोरोना के दौरान प्रवासी मजदूरों के लिए किए गए काम, लव जिहाद कानून और राम मंदिर निर्माण का जिक्र कर अपनी उपलब्धियां गिनाते नजर आएंगे। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नीतियों और योगी मॉडल के जरिए बीजेपी पश्चिम बंगाल का किला फतह कर पाती है या नहीं।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है