भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को किसान आंदोलन पर  प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इसी दौरान भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने विपक्षी पार्टी तंज कसते हुए कहा कुछ वामपंथी दल किसानों के कंधों पर बंदूक रखकर राजनीति साधने की कोशिश कर रहे हैं। संबित पात्रा ने कहा कि इनसे दोगली पाखंडी पार्टी और कोई नहीं। इन्होंने दोगलेपन की सारी सीमाओं को लांघ दिया है। इन्होंने किसानों पर कई अत्याचार किए हैं। ये बात अलग है कि वे आज दिखावा कुछ और कर रहे हैं भाजपा नेता संबित पात्रा ने कहा कि वामपंथियों ने किसानों के इस आंदोलन को हाईजैक कर लिया है। APMC को लेकर भ्रमजाल फैलाने की कोशिश हो रही है।

उन्होनें कहा कि 1993 से 2018 तक त्रिपुरा में वामपंथ की सरकार रही और मुझे बताते हुए दुख हो रहा है कि 25 वर्षों तक किसी भी फसल पर कोई भी MSP नहीं थी।त्रिपुरा एकमात्र ऐसा राज्य था जहां MSP लागू नहीं होती थी। आज ये तमाम वामपंथी नेता किसान हितैषी बने हुए हैं। उन्होने ये भी कहा नरेंद्र मोदी जी की सरकार और स्वयं मोदी जी जो हिंदुस्तान के मुख्य सेवक हैं वे किसानों को अन्नदाता और भगवान मानते हैं। कि हमने देखा कि आज बहुत से किसान संगठन तीन बिलों के समर्थन में उतरे हैं कृषि मंत्री से उन्होंने मुलाकात भी की और उन्होने मोदी जी को धन्यवाद दिया है।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है