मुंबई के आजाद मैदान में सोमवार को हजारों की संख्या में जुटे किसान। और दूसरी ओर  कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली में जारी किसानों के आंदोलन का समर्थन किया गया।  एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने भी यहां आए किसानों को संबोधित किया और केंद्र पर निशाना साधा. कृषि कानून के खिलाफ मुंबई के आजाद मैदान में हजारों की संख्या में किसान जुटे हुए हैं।  मुंबई में महाराष्ट्र के अलग-अलग जिलों से किसान यहां पहुंचे। पूर्व केंद्रीय मंत्री एनसीपी प्रमुख शरद पवार समेत अन्य महाराष्ट्र के नेता भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए। कृषि कानून के मामले में शरद पवार ने केन्द्र को घेरा और कहा कि किसान बिल के कानून को बिना चर्चा के पास किया गया। शरद पवार ने कहा केंद्र ने बिना किसी चर्चा के कृषि कानूनों को पास किया हैं , जो संविधान के साथ मजाक है।

लालू की रिहाई की मांग, बीमार लालू प्रसाद के लिए जारी आजादी पत्र

अगर सिर्फ बहुमत के आधार पर कानून पास करेंगे  तो किसान घुसे में आएंगे ,ट्रैक्टर रैली तो सिर्फ शुरुआत हैं। आने वाले दिनों में किसानो का गुस्सा और भी बढ़ सकता हैं।  महाराष्ट्र में अब तक कभी ऐसा राज्यपाल नहीं आया, जिसके पास किसानों से मिलने का वक्त तक नहीं हैं। लगभग एक माह से लगातार किसान प्रदर्शन कर रहे हैं।  11वे दौर की बैठक के बाद भी कोई हल निकल कर सामने नहीं आया हैं।  अब देखना ये होगा की ट्रेक्टर रैली के बाद कोई हल निकल कर सामने आता है या नहीं।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं