पुलिस से अनुमति नहीं मिलने के बाद अब ये है Asaduddin Owaisi का नया प्लान

चुनाव कहीं का भी हो उससे पहले सभी जगह नेताओं की रैली होना आम बात है। हर पार्टी जनता को अपने वादों से लुभाने की तैयारी करते हैं, लेकिन All India Majlis-e-Ittehadul Muslimeen (AIMIM) के प्रमुख Asaduddin Owaisi की West Bengal के कोलकाता में आज होने वाली रैली को Police से अनुमति नहीं मिलने की वजह से रद्द कर दिया है।

AIMIM प्रमुख Asaduddin Owaisi को अल्पसंख्यक बहुल मेतियाब्रुज इलाके में रैली के जरिए West Bengal Assembly Elections 2021 से पहले पार्टी के प्रचार अभियान का आगाज करना था। AIMIM के प्रदेश सचिव जमीर उल हसन ने बताया कि पुलिस ने रैली के लिए उन्हें इजाजत नहीं दी है। हसन ने बताया, ‘हमने इजाजत के लिए 10 दिन पहले आवेदन दिया था, मगर रैली से ठीक एक दिन पहले Police ने सूचित किया कि वे हमें रैली करने की इजाजत नहीं देंगे। हम TMC के ऐसे हथकंडों के आगे झुकेंगे नहीं। हम चर्चा करेंगे और कार्यक्रम की नई तारीख बताएंगे।’

दरअसल Bengal Election में एंट्री के बाद से ही Owaisi रणनीति तैयार करने में लगे हुए हैं। AIMIM की निगाह मालदा, दक्षिण 24 परगना, दिनाजपुर, मुर्शिदाबाद पर है। मुस्लिम बहुल इन इलाकों में Owaisi सेंधमारी की तैयारी में हैं जिससे TMC को वोट कटने का खतरा सता रहा है। Bihar के सीमांचल इलाके में पांच सीटों पर जीत दर्ज करने के बाद से Owaisi की निगाह बंगाल पर है। Owaisi ने Bihar के जीते पांचों विधायकों को बंगाल में ऑब्जर्वर नियुक्त किया है। इसके साथ ही तेलंगाना के दो विधायकों को भी बंगाल चुनाव में लगाया गया है।

इस मामले पर Kolkata Police ने टिप्पणी करने से इनकार दिया है। TMC के सांसद सौगत रॉय ने रैली के लिए इजाजत नहीं मिलने में अपनी पार्टी की भूमिका से इनकार किया है। बता दें Asaduddin Owaisi  की पार्टी AIMIM Bengal Election के लिए पूरे जोर-शोर के साथ तैयारी में लग गई है। Bihar Election Results के बाद ही Owaisi ने West Bengal Legislative Assembly Elections लड़ने का ऐलान किया था।

यह भी पढ़ें: Maharashtra में Corona ले रहा भयानक रूप

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है