क्या विकास दुबे के साथ ही खामोश हो गए कई राज़!

कई दिनों की मशक्कत के बाद यूपी के कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे को उज्जैन से गिरफ्तार किया जाना और फिर फ़िल्मी कहानी की तरह ही उसका एनकाउंटर मे मारा जाना कई सवालों को खड़ा करता है जिसपर विपक्ष ने सियासत शुरू कर दी है।

अचानक हुए विकास दुबे के एनकाउंटर की खबर आने के बाद से ही इस पूरे घटनाक्रम पर सवाल उठने लगे हैं। कई विपक्षी नेताओं ने कहा है कि इस एनकाउंटर की आड़ में उन सभी लोगों को बचा लिया गया है, जो विकास दुबे की मदद कर रहे थे। इतना ही नहीं विकास दुबे को राजनीतिक शक्तियों से शह मिलने की बात हो रही थी, वो क्या अब सामने निकलकर आएगी? या उन सवालों पर हमेशा के लिए पर्दा पड़ गया।

कानपुर के चौबेपुर के बिकरू गांव में 2 जुलाई की रात गैंगस्टर विकास दुबे की गैंग ने 8 पुलिसवालों को गोलियों से भून दिया था। अगली सुबह से ही यूपी पुलिस विकास गैंग के सफाए में जुट गई। सरगना विकास 3 राज्यों की पुलिस को चकमा देकर यूपी से हरियाणा और फिर राजस्थान होते हुए मध्यप्रदेश पहुंच गया। सरेंडर के अंदाज में उज्जैन के महाकाल मंदिर से गुरुवार(9 जुलाई) को विकास की गिरफ्तारी हुई। यूपी पुलिस उसे कानपुर ले जा रही थी, लेकिन रास्ते में विकास का वही अंजाम हुआ जिसके डर से वह भागता फिर रहा था। पुलिस ने उसे एनकाउंटर में मार गिराया।

कौन है एमपी का वो बड़ा नेता जिसकी वजह से सही सलामत उज्जैन पहुंचा विकास दुबे

अब सपा, बसपा, कांग्रेस नेताओं ने विकास दुबे के सरेंडर और फिर एनकाउंटर को लेकर योगी सरकार को घेरते हुए ट्वीट के ज़रिए सवाल किए हैं। बता दें कि कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने भी ऐसे ही सवाल किए हैं। उन्होंने एक ट्वीट कर लिखा है कि अपराधी को संरक्षण देने वालों का अब क्या होगा?

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी इस एनकाउंटर के पीछे बड़े राज को छिपाने का आरोप लगाया है। उन्होंने इसे लेकर योगी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने एक ट्वीट कर कहा कि ‘हादसे में कार पलटी नहीं है, राज़ खुलने से सरकार पलटने से बचाई गई है।’

विकास दुबे के रुतबे और कानपुर में उसके इलाके में स्थानीय पुलिस पर उसके प्रभाव के चलते यह पूरा मामला पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़े कर रहा है। अब अचानक से हुए इस एनकाउंटर से आशंका है कि पता नहीं जो केस के पीछे की असली कहानी है, वो सामने आएगी या नहीं।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है